UP...कई जिलों में आज भी भारी बारिश के आसार:पश्चिमी UP और दिल्ली NCR में छाए काले बादल, अयोध्या में लगातार बारिश; CM योगी का आदेश- ग्राउंड पर जाकर नुकसान का जायजा लें अफसर

लखनऊएक महीने पहले
पश्चिमी UP के कई जिलों में सुबह से ही काले बादल छाए हुए हैं। यहां तेज बारिश की संभावना है।

उत्तर प्रदेश के कई जिलों में आज भी भारी बारिश के आसार हैं। सबसे ज्यादा असर दिल्ली NCR और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के जिलों में देखने को मिलेगा। मेरठ, गाजियाबाद, नोएडा, हापुड़, बुलंदशहर, बागपत, मुजफ्फरनगर, शामली, बिजनौर और आस-पास के जिलों में काले बादल छाए हुए हैं। यहां तेज हवाएं भी चल रहीं।

इससे पहले गुरुवार को भी इन जिलों में काफी बारिश हुई। देर रात तक लगातार पानी गिरता रहा। अयोध्या में भी लगातार बारिश हो रही है। इधर, लखनऊ और आस-पास के कुछ जिलों में आज मौसम साफ है। 24 घंटे लगातार बारिश के बाद यहां धूप खिली। हालांकि मौसम विभाग के अनुसार, दोपहर बाद यहां भी बारिश की संभावना है।

CM योगी ने अधिकारियों को फील्ड पर जाने को कहा
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नगर निकाय और पंचायती राज के सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को फील्ड में जाकर बारिश से हुई तबाही का जायजा लेने का आदेश दिया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि बारिश के कारण हुए नुकसान का जायजा लेकर पीड़ितों को जल्द से जल्द राहत पहुंचाया जाए। स्वास्थ्य विभाग और नगर निकाय को भी निर्देश दिया है कि जलजमाव के कारण कोई रोग ना फैले इसके लिए ठोस कदम उठाएं।

फोटो लखनऊ की है। यहां 24 घंटे की बारिश के बाद कभी धूप निकल रही तो कभी बादल छा रहे।
फोटो लखनऊ की है। यहां 24 घंटे की बारिश के बाद कभी धूप निकल रही तो कभी बादल छा रहे।

दो दिन स्कूल बंद रखने का आदेश
खराब मौसम और मौसम वैज्ञानिकों के अनुमान के आधार पर उत्तर प्रदेश सरकार ने अगले दो दिन स्कूल-कॉलेज बंद रखने का फैसला किया है। ऐसे में शुक्रवार, शनिवार और रविवार यानी तीन दिन स्कूल बंद रहेंगे।

इन जिलों के लिए जारी किया गया अलर्ट
उत्तर प्रदेश के 23 जिले ऐसे हैं जहां पर भारी बारिश के आसार हैं। इसके लिए मौसम विभाग ने अलर्ट जारी किया है। इनमें गाजीपुर, बलिया, मऊ, आजमगढ़, देवरिया, गोरखपुर, अंबेडकरनगर, सुल्तानपुर, अयोध्या, बाराबंकी, सीतापुर, लखीमपुर खीरी, बहराइच, गोंडा, बस्ती, श्रावस्ती, बलरामपुर, सिद्धार्थनगर, संतकबीर नगर, महाराजगंज, कुशीनगर, लखनऊ शामिल है।

40 शहरों में हुई लगातार बारिश, 26 मौतें
गुरुवार को उत्तर प्रदेश के 40 जिलों में लगातार बारिश हुई। कहीं, 24 घंटे तो कहीं 48 घंटे तक बरसात का पानी गिरा। प्रदेश में अब तक बारिश से जुड़े हादसों में 26 लोगों की मौत की खबर आ चुकी है। प्रयागराज में घर गिरने से 5 लोगों की जान गई है।

लखनऊ में 36 घंटे में 222 मिमी हुई बारिश

मौसम विभाग के निदेशक जेपी गुप्ता ने बताया गुरुवार को लखनऊ में 36 घंटे में 222 मिमी बारिश हुई है। गुरुवार दोपहर 2 बजे से शाम 5:30 बजे तक 23 मिमी बारिश रिकॉर्ड हुई। इस साल जुलाई में 115.7 मिमी हुई थी। करीब 10 साल बाद लखनऊ में सितंबर महीने में इतनी ज्यादा बारिश हुई है। इससे पहले 2012 में 14 सितंबर को एक दिन में 138 मिमी बारिश हुई थी। लखनऊ में एक बच्चे की करंट लगने और दो बच्चों की गड्‌ढ़े में डूबने से मौत हो गई।

बनारस: 10 साल में तीसरी बार एक दिन में सबसे ज्यादा बारिश
वाराणसी में 40 घंटे में रिकाॅर्ड 120 मिलीमीटर बारिश हुई है। ये पिछले 10 साल में तीसरा मौका है, जब वाराणसी में इतनी ज्यादा बारिश हुई है। इससे पहले 2011 में एक दिन में 146 मिलीमीटर और 2019 में 130 मिलीमीटर तक बारिश दर्ज की गई थी।

फोटो आगरा की है। यहां कई घंटे तक लगातार हुई बारिश के चलते नेशनल हाईवे की बाउंड्री टूट गई। अभी भी लगातार बाउंड्री गिरती जा रही है।
फोटो आगरा की है। यहां कई घंटे तक लगातार हुई बारिश के चलते नेशनल हाईवे की बाउंड्री टूट गई। अभी भी लगातार बाउंड्री गिरती जा रही है।

प्रयागराज: कई इलाकों में पानी घुसा, सड़कें धंसी
प्रयागराज में तेज हवाओं के साथ लगातार हुई बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया। विभिन्न क्षेत्रों में मकान ढहने से 5 लोगों की मौत हो गई, जबकि कई अन्य घायल हो गए। कई इलाकों में लोगों के घरों में पानी घुस गया है। सड़कों पर पेड़ गिरने से आवागमन बाधित है। कई जगह बारिश से सड़कें धंस गई हैं।

प्रयागराज के अलग-अलग इलाकों में मकान ढहने से पांच लोगों की मौत हो गई।
प्रयागराज के अलग-अलग इलाकों में मकान ढहने से पांच लोगों की मौत हो गई।

बारिश से मुट्ठीगंज क्षेत्र में दो मंजिला मकान ढह गया। मकान के मलबे में दबकर महिला की मौत हो गई। कोरांव में मकान ढहने से महिला की मौत हो गई। मऊआइमा में भी एक व्यक्ति की मौत की सूचना है। शंकरगढ़ में कचारी गांव में दो मंजिला पक्का मकान ढहने दो लोगों की जान चली गई।

जौनपुर में तीन, फतेहपुर में पांच की मौत
जौनपुर में कच्चा मकान गिरने से तीन लोगों की जान चली गई। फतेहपुर जिले में बारिश के चलते तीन मासूमों सहित पांच लोगों को मौत हुई। कौशांबी में 2 और अमेठी में दीवार गिरने से एक व्यक्ति की जान गई। सीतापुर और चित्रकूट में एक-एक की मौत हुई।

बरेली में भी एक चार साल के बच्चे की मौत हुई है। इसी तरह बलिया में बारिश के चलते 2 बच्चों की तालाब में डूब कर मौत हुई है। वहीं, रायबरेली, बांदा, उन्नाव और बाराबंकी में 1-1 लोगों की मौत हुई है।

खबरें और भी हैं...