• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Vikas Dubey Was Caught In Kanpur Shootout Ujjain; Now The UP Police Wrote To The MP Police, Asking Who Gave A Reward Of 5 Lakh Rupees

विकास पर रखा 5 लाख का इनाम किसे?:यूपी पुलिस का एमपी पुलिस से सवाल- इनाम किसे दें? उज्जैन पुलिस 3 दिन में बताएगी- विकास को पहले किसने देखा, गिरफ्तारी किसने की?

लखनऊ2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
कानपुर शूटआउट के बाद 9 जुलाई को विकास दुबे उज्जैन से पकड़ा गया था। बाद में उसे कानपुर लाते समय रास्ते में गाड़ी पलट गई। जिसके बाद वह भागने की कोशिश करने के दौरान मारा गया था। - फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
कानपुर शूटआउट के बाद 9 जुलाई को विकास दुबे उज्जैन से पकड़ा गया था। बाद में उसे कानपुर लाते समय रास्ते में गाड़ी पलट गई। जिसके बाद वह भागने की कोशिश करने के दौरान मारा गया था। - फाइल फोटो
  • उज्जैन एसपी ने बनाई कमेटी, किसको दिया जाए इनाम इसका फैसला तीन सदस्यीय टीम करेगी
  • यूपी पुलिस ने हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे की जानकारी देने वाले को पांच लाख रुपए इनाम देने का ऐलान किया था

विकास दुबे को गिरफ्तारी पर रखा गया 5 लाख का इनाम किसे दिया जाए? यूपी पुलिस ने मध्य प्रदेश पुलिस को चिट्‌ठी लिखकर यह सवाल पूछा है। दरअसल, कानपुर शूटआउट में 8 पुलिसवालों की हत्या का आरोपी गैंगस्टर विकास उज्जैन के महाकाल मंदिर में गिरफ्तार किया गया था। इसी वजह से यूपी पुलिस ने एमपी पुलिस से सवाल पूछा है। 

यूपी एसटीएफ को सौंपे जाने तक का ब्योरा देगी एमपी पुलिस

कुछ लोग सामने आए थे, जिनकी निशानदेही पर विकास को गिरफ्तार किया गया था। अब उज्जैन एसपी मनोज कुमार सिंह ने मामला सुलझाने के लिए 3 मेंबर वाली कमेटी गठित की है। यूपी पुलिस जानना चाहती है कि किसकी निशानदेही पर गिरफ्तारी हुई, इसमें कौन पुलिसवाले शामिल थे। उज्जैन पुलिस की कमेटी इस पर 3 दिन में रिपोर्ट देगी कि विकास को पहले किसने देखा और उसे किसने पकड़ा। रिपोर्ट में विकास को यूपी एसटीएफ को सौंपे जाने तक का ब्योरा होगा।

9 जुलाई को हुआ था गिरफ्तार

गैंगस्टर विकास दुबे की गिरफ्तारी 9 जुलाई को सुबह उज्जैन के महाकाल मंदिर से हुई थी। गिरफ्तारी के बाद एसपी मनोज सिंह ने कहा था कि वह राजस्थान के झालावाड़ से सुबह से 3.58 बजे उज्जैन के देवासगेट बस स्टैंड पर पहुंचा था। वहां से ऑटो में बैठ कर रामघाट पर शिप्रा नदी में स्नान के लिए गया था। उसके बाद वह 7.45 बजे महाकाल मंदिर में पहुंचा था। यहां उसे पहली बार फूल की दुकान चलाने वाले ने देखा था। फिर मंदिर में तैनात सुरक्षाकर्मियों ने उसे गिरफ्तार किया था।

आठ पुलिसवालों का हत्यारा उज्जैन में पकड़ा गया था

कानपुर के बिकरू गांव में 8 पुलिसवालों की शूटआउट में हत्या के बाद फरार हुआ विकास दुबे गुरुवार को नाटकीय तरीके से पुलिस की गिरफ्त में आ गया। एक दिन पहले ही यह खबरें आई थीं कि वह फरीदाबाद के एक होटल में कमरा लेकर रुका था। इसके सीसीटीवी फुटेज भी सामने आए थे, लेकिन इसके बाद गुरुवार सुबह वह उज्जैन पहुंचा और सरेंडर के इरादे से ही वह महाकाल मंदिर में गया। उज्जैन पुलिस के सूत्रों ने भास्कर को बताया कि विकास दुबे यूपी पुलिस के एनकाउंटर से बचने के लिए उज्जैन पहुंचा था।