कानपुर शूटआउट:घर बचाने के लिए विकास दुबे की पत्नी ऋचा पहुंची एलडीए; इंजीनियर से पूछा- मैं ऐसा क्या करूं कि, बेघर न होना पड़े

लखनऊ2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
गैंगस्टर विकास दुबे की पत्नी ऋचा दुबे कानपुर में जिला पंचायत सदस्य हैं। - Dainik Bhaskar
गैंगस्टर विकास दुबे की पत्नी ऋचा दुबे कानपुर में जिला पंचायत सदस्य हैं।
  • एलडीए ने 8 जुलाई को विकास दुबे के लखनऊ वाले मकान पर चस्पा किया था नोटिस, 24 घंटे के भीतर मांगा था नक्शा
  • बड़े बेटे के साथ एलडीए पहुंची ऋचा दुबे से इंजीनियर ने कहा- न्यायालय में बपना बयान देकर मांगें मोहलत

कानपुर शूटआउट के बाद जिला प्रशासन ने गैंगस्टर विकास दुबे के बिकरु गांव वाले मकान को जेसीबी से ढहा दिया था। वहीं, उसके लखनऊ के कृष्णानगर स्थित मकान की भी लखनऊ विकास प्राधिकरण (एलडीए) ने जांच की थी तो मकान का नक्शा नहीं मिला था। जिस पर 24 घंटे में नक्शा उपलब्ध कराने के लिए विकास दुबे की पत्नी ऋचा दुबे के नाम मकान पर नोटिस चस्पा किया गया था। हालांकि, 24 घंटे के बजाय 9 दिन बीत चुके हैं। अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है। ऋचा दुबे अपने बड़े बेटे आकाश के साथ एलडीए ऑफिस पहुंचीं। उन्होंने नक्शे के लिए मोहलत मांगी। लेकिन एक्सईएन ने हाथ खड़े कर दिए। कहा कि, संबंधित न्यायालय में बयान देकर मोहलत मांगी जा सकती है। 

विकास दुबे की पत्नी ऋचा दुबे कानपुर जिला पंचायत सदस्य हैं। दो जुलाई को बिकरु गांव में सीओ समेत आठ पुलिसवालों की हत्या के बाद पुलिस ने ऋचा दुबे को भी आरोपी बनाया था। लेकिन 9 जुलाई को गिरफ्तारी के बाद उनसे करीब 16 घंटे पूछताछ की गई। मामले में संलिप्तता न मिलने पर उन्हें रिहा कर दिया गया था। 

8 जुलाई को मकान पर चस्पा हुई थी नोटिस

विकास दुबे का लखनऊ के कृष्णानगर स्थित इंद्रलोक कॉलोनी में घर है। छह हजार वर्ग फीट में साल 2002 में धर्मेंद्र ग्रोवर के नाम से नक्शा पास हुआ था। इस नक्शे पर चार अलग-अलग मकान बनाए गए, चारों के अलग-अलग नंबर हैं। ऐसे में एलडीए ने विकास के नाम से दर्ज मकान की नक्शे की स्व प्रमाणित छायाप्रति उपलब्ध कराने के लिए 8 जुलाई को ऋचा दुबे को नोटिस जारी किया था। यह नोटिस अधिशासी अभियंता प्रवर्तन के द्वारा मकान पर चस्पा कराया गया था।  

तीन और मकानों को भी जारी किया गया है नोटिस

ऋचा दुबे ने एलडीए के एक्सईएन कमलजीत से गुरुवार शाम को मुलाकात की। एलडीए के अधिशासी अभियंता कमलजीत सिंह ने बताया कि ऋचा दुबे आई थीं। उनको शमन मानचित्र जमा करने के लिए कह दिया गया। उन्होंने कुछ दिन की मोहलत मांगी थी, जिसके विहित न्यायालय में समय मांगने के लिए बताया गया है। एलडीए इस दौरान इंद्रलोक कॉलोनी में ऋचा दुबे के अलावा पड़ोस के तीन और मकान को नोटिस दिया गया था। सभी को शमन करवाना होगा। इनका नक्शा एक ही है।