पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

डॉल्फिन को काटना पड़ा महंगा:सीतापुर में ग्रामीणों ने नहर में डॉल्फिन का किया शिकार कर उसके टुकड़े टुकड़े किए, 2 नामजद सहित दर्जनों पर केस दर्ज

सीतापुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ग्रामीणों ने डॉल्फिन का किया श - Dainik Bhaskar
ग्रामीणों ने डॉल्फिन का किया श

उत्तर प्रदेश के सीतापुर में शारदा सहायक नहर से डॉल्फिन मछली को पकड़कर उसे काटने का सनसनीखेज मामला सामने आया हैं। मछली को नहर से निकालकर उसे काटने का आरोप दो स्थानीय नामजद ग्रामीणों सहित दर्जनों अज्ञात ग्रामीणों पर लगा हैं। वन विभाग के अधिकारियों ने मुख़बिर की सूचना पर घटनास्थल का मौका मुआयना कर दो ग्रामीणों को नामजद करने हुए दर्जनों अज्ञात ग्रामीणों के खिलाफ केस दर्ज कराया हैं।

पुलिस ने मामले में भारतीय वन्य जीव संरक्षण अधिनियम 1972 के तहत केस दर्ज कर दो ग्रामीणों को हिरासत में भी ले लिया हैं और शेष अन्य ग्रामीणों की जानकारी कर उनकी भी खोजबीन की जा रही हैं। मामला लहरपुर तहसील क्षेत्र के थाना हरगांव इलाके का हैं। यहां के ग्राम सुल्तानपुर तकिया के निकट से गुजरी शारदा सहायक नहर में कुछ ग्रामीण मछली का शिकार करने के लिए गए थे।

मिली जानकारी के मुताबिक,इसी दौरान ग्रामीणों को नहर में डॉल्फिन मछली दिखाई दी तो उन्होंने अन्य मछलियों का शिकार छोड़कर डॉल्फिन को अपना शिकार बना लिया और उसे पकड़कर दूसरे गांव भगौतीपुर के बाहर ले आये।

ग्रामीणों ने डॉल्फिन को काटकर टुकड़े टुकड़े कर दिए

वन विभाग के रेंजर कमलेश कुमार के मुताबिक ग्रामीणों ने डॉल्फिन मछली को काटकर उसे टुकड़े कर दिए। डॉल्फिन मछली को पकड़ने और उसे क्षतिग्रस्त करने के वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद वन विभाग के कर्मचारियों ने जानकारी हासिल की और मौके पर पहुंचकर ग्रामीणों का पता लगाया।

वन विभाग के रेंजर कमलेश कुमार के मुताबिक ग्रामीणों द्वारा पकड़ी गयी डॉल्फिन मछली का वजन तकरीबन 2 कुंतल से अधिक होगा जिसे दर्जनों ग्रामीणों की मदद से नुकसान पहुंचाया गया हैं। रेंजर कमलेश कुमार ने दो नामजद ग्रामीण पृथ्वी और मिथुन सहित दर्जनों अज्ञात ग्रामीणों के खिलाफ तहरीर दी है।

दो लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही पुलिस

पुलिस ने मामले में तत्काल प्रभाव से 2 लोगों को हिरासत में लेकर तहरीर के आधार पर भारतीय वन जीव संरक्षण अधिनियम 1972 की धारा 9/35/51 के दंडनीय अपराध मानते हुए केस दर्ज कर कार्यवाई शुरू कर दी हैं। पुलिस का कहना हैं कि गिरफ्तार दो अभियुक्तों की निशानदेही पर वारदात में शामिल अन्य ग्रामीणों की भी तलाश की जा रही है और उन्हें भी जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।