पीलीभीत में एडीजी ने सिपाही,दो दरोगा का किया निलंबित:पेड़ कटान के मामले में ली थी 6 लाख की रिश्वत, किसानों ने की थी शिकायत

पीलीभीत2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पीलीभीत में एडीजी ने सिपाही,दो दरोगा का किया निलंबित। - Dainik Bhaskar
पीलीभीत में एडीजी ने सिपाही,दो दरोगा का किया निलंबित।

पीलीभीत में पेड़ कटान के मामले में पकड़ी गई ट्रैक्टर ट्रॉली और जेसीबी मशीन छोड़ने के नाम पर दरोगा और सिपाहियों पर रिश्वत मांगने का आरोप लगा था। मामले में एडीजी के हस्तक्षेप के बाद अब दरोगा और दो सिपाही निलंबित किए गए हैं।

परमिट से ज्यादा तीन पेड़ काटे

जिले के माधोटांडा थाना क्षेत्र के गांव पचपेड़ा तालुके महाराजपुर गांव में तीन दिन पहले अजायब सिंह ने खेत मे खड़े सागौन का कटान कराया था। इसके लिए किसान ने सामाजिक वानिकी से 35 पेड़ों का परमिट भी लिया था। किसान ने पेड़ों को काटने के बाद जमीन को समतल करने के लिए जेसीबी मशीन से जड़ों को निकालना शुरू किया। इस दौरान स्थानीय किसानों ने पुलिस को परमिट की आड़ में ज्यादा पेड़ काटने की सूचना दी। मौके पर एसआई रामगोपाल आर्या और तीन सिपाही जांच पड़ताल करने मौके पर पहुंचे। और जेसीबी व जड़ों को लाद रही ट्रैक्टर ट्राली को पकड़कर थाने ले आए। जब इस पूरे मामले में सामाजिक वानिकी की ओर से जांच की गई। तो 35 पेड़ों के परमिट पर तीन अधिक पेड़ों का कटना पाया गया। जिसमें नियम अनुसार विभागीय केस भी दर्ज किया गया।

किसान ने लगाया रिश्वत मांगने का आरोप

पुलिस द्वारा पकड़ी गई ट्रैक्टर ट्रॉली छोड़ने के नाम पर पुलिसकर्मियों पर रुपए मांगने का आरोप लगाते हुए पीड़ित किसान ने ट्विटर पर प्रार्थना पत्र के साथ एडीजी जोन से शिकायत की। एडीजी जोन अविनाश चंद्र के निर्देश पर शाहजहांपुर जनपद के सीओ अखंड प्रताप सिंह सोमवार को पूरे मामले में जांच पड़ताल करने पीलीभीत पहुंचे थे। मामले में पुलिस कर्मियों के बयान दर्ज करने के बाद सीओ ने गांव पहुंचकर किसान के अलावा सामाजिक वानिकी की टीम के भी बयान दर्ज किए थे।

जांच में बाद दरोगा और सिपाही निलंबित

पूरे मामले में मंगलवार को पीलीभीत के एसपी दिनेश पी ने दरोगा राम गोपाल आर्य कॉन्स्टेबल लेखपाल सागर और मोनू कुमार को निलंबित कर दिया एसपी दिनेश जी का कहना था कि पूरे मामले में जांच के दौरान ट्रैक्टर-ट्राली व जेसीबी मशीन के दाखिले में देरी और वन विभाग को सूचना करने में लापरवाही बरतने का मामला सामने आया था। जिस आधार पर यह कार्रवाई की गई है।