पुलिस और ग्रामीणों में हाथापाई:पीलीभीत में कच्ची शराब पकड़ने गई थी टीम, पुलिस ने महिलाओं के साथ की मारपीट, गांव वालों के खिलाफ FIR

पीलीभीत5 महीने पहले
पुलिस और ग्रामीणों के बीच हाथापाई

पीलीभीत जिले में मुखबिर की सूचना पर कच्ची शराब पकड़ने गई पुलिस टीम का महिलाओं के साथ हाथापाई का मामला सामने आया है। इस हाथापाई का एक वीडियो जिले में वायरल हो रहा है। ग्रामीणों ने आरोप लगा है कि पुलिस टीम ने महिला से साथ मारपीट की है। वहीं पुलिस ने 8 ग्रामीणों पर टीम पर हमला करने का मामला दर्ज किया है।

उत्तर प्रदेश में भले ही पुलिस को आम नागरिकों से सहजता से पेश आने का पाठ पढ़ाया जाता हो लेकिन जमीनी हकीकत यह है कि पुलिस का रवैया इस कदर खराब है कि पुलिस मनमानी का विरोध करने पर महिलाओं को भी पीटने से नहीं कतराती। पीलीभीत जिले में सोशल मीडिया पर वायरल हुए एक वीडियो ने पुलिस की करतूत को सरेआम कर दिया है।

मामला सेहरामऊ उत्तरी थाना क्षेत्र का है। थाना क्षेत्र अंतर्गत आने वाले रानीगंज गांव में रविवार को थाने में तैनात वरिष्ठ उप निरीक्षक अमित कुमार अपनी टीम के साथ मुखबिर की सूचना पर कच्ची शराब पकड़ने पहुंचे थे। इस दौरान गांव के रहने वाले महेंद्र और रंजीत को पुलिस ने पकड़ लिया। वहीं जब रंजीत और महेंद्र के परिजनों ने पुलिस की मनमानी का विरोध किया, तो पुलिस कर्मियों ने आव देखा न ताव महिलाओं के साथ मारपीट शुरू कर दी। इस पूरे मामले का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। स्थानीय ग्रामीणों और परिजनों ने पुलिस पर महिलाओं से मारपीट करने का आरोप लगाया है।

पुलिस ने ग्रामीणों पर दर्ज किया मामला

एक तरफ सोशल मीडिया पर वायरल हुए वीडियो में पुलिसकर्मी महिलाओं से मारपीट करते दिखाई दे रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ पुलिस टीम पर हमला करने सरकारी कार्य में बाधा डालने, गाली-गलौज और मारपीट करने के मामले में तहरीर ग्रामीणों पर दर्ज की गई है। पुलिस ने रानीगंज के रहने वाले महेंद्र रंजीत समेत कुल 8 लोगों पर मामला दर्ज किया है।