पीलीभीत के डीएम का मथुरा हुआ ट्रांसफर:2 साल पुलकित खरे ने संभाला जिले का काम, प्रवीन कुमार कुमार होंगे नए डीएम

पीलीभीत19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

पीलीभीत शासन द्वारा देर रात चलाई गई तबादला एक्सप्रेस में पीलीभीत के जिलाधिकारी को शासन ने स्थानांतरित करते हुए मथुरा का नया जिलाधिकारी बनाया है। मिर्जापुर के जिलाधिकारी का कार्यभार संभाल रहे प्रवीन कुमार लक्ष्यकार को पीलीभीत के जिलाधिकारी का दायित्व सौंपा गया है। तबादले के बाद मथुरा जिला अधिकारी की जिम्मेदारी संभालने जा रहे पीलीभीत के तत्कालीन जिलाधिकारी पुलकित खरे के कार्यों की हर तरफ प्रशंसा हो रही है।

डीएम ने शहर का रंग-रूप बदल दिया था

सोशल मीडिया पर भी डीएम के तबादले को खेद पूर्ण बताते हुए लोग उनके कार्यों की प्रशंसा कर रहे हैं। आईएएस अफसर पुलकित खरे ने पीलीभीत को बांसुरी नगरी के रूप में देश में पहचान दिलाने के लिए हर संभव प्रयास किए। शहर के तमाम चौराहों का रंग रूप और बदहाल स्थिति डीएम पुलकित खरे के जिले में आगमन के बाद बदलते नजर आए।लखनऊ की शान गोमती नदी के माधोटांडा इलाके में स्थित उद्गम स्थल से लेकर जिले की सीमा के बाहर तक गोमती के उद्धार को लेकर डीएम पुलकित खरे ने बीड़ा उठाया।

घाटों पर शुरू की संध्या आरती

गोमती के उत्थान के कार्यों में हीला हवाली ना हो इसके लिए डीएम ने खुद 47 किलोमीटर की पैदल यात्रा कर कार्यों की गुणवत्ता को परखा। गोमती नदी के किनारे स्थित कई घाटों पर संध्या आरती की शुरुआत भी कराई। अब गोमती नदी के किनारे स्थित 16 ग्राम पंचायतों में प्रतिदिन संध्या आरती होती है। पीलीभीत के जिलाधिकारी पुलकित खरे ने धान खरीद की नीति में सरकार की मंशा के अनुरूप किसानों को लाभ दिलाने के लिए मंडी में जाकर मोर्चा संभाल लिया था।

डीएम को बताते थे धरती का भगवान

उन्होंने तत्कालीन डिप्टी आरएमओ अविनाश झा समेत तमाम अधिकारियों को फटकार भी लगाई थी। इस पूरे मामले का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा था। कुछ किसान डीएम को धरती का भगवान कह रहे थे तो कुछ उनके प्रयास की प्रशंसा कर रहे थे। इसी बीच देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी जिलाधिकारी पुलकित खरे से फोन पर बात कर उनके कार्यों की प्रशंसा की थी।

सरकार के खास अफसरों में होती है गिनती

सरकारी नीतियों को धरातल पर उतारने के मामले में जिलाधिकारी पुलकित खरे की समय-समय पर शासन स्तर से तारीफ होती रहती है। जानकारी के मुताबिक जिलाधिकारी पुलकित खरे योगी सरकार के खास और भरोसेमंद अफसरों में गिने जाते हैं। जिलाधिकारी पुलकित खरे को 20 अगस्त 2022 में हरदोई से स्थानांतरित करते हुए पीलीभीत का जिलाधिकारी शासन द्वारा बनाया गया था। जिले में 2 साल 1 माह एक दिन का सफर पूरा करते हुए जिलाधिकारी पुलकित खरे का तबादला 17 सितंबर की देर रात शासन ने बतौर मथुरा के जिला अधिकारी पद पर किया है।

नए डीएम के आगमन की तैयारियों में जुटे अधिकारी

डीएम पुलकित खरे जिले में 2 साल से अधिक समय की लंबी पारी खेल कर विकास कार्यों को धरातल पर उतारते नजर आए। नए डीएम प्रवीन कुमार मिर्जापुर के जिला अधिकारी का दायित्व संभाल रहे थे। प्रवीन कुमार को शासन ने पीलीभीत का नया जिलाधिकारी बनाया है। जिले में नए जिलाधिकारी के आगमन को लेकर तमाम विभाग तैयारियों में जुटे हैं।