CBSE की परीक्षा देने सऊदी से प्रतापगढ़ आई आयशा:लॉकडाउन की वजह से सऊदी अरब में बंद हैं स्कूल, रिश्तेदार के घर में रुक कर दे रही 10वीं की सेमेस्टर परीक्षा

प्रतापगढ़10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
CBSE की परीक्षा देने सऊदी से प्रतापगढ़ आई आयशा। - Dainik Bhaskar
CBSE की परीक्षा देने सऊदी से प्रतापगढ़ आई आयशा।

सऊदी अरब की रहने वाली आयशा CBSE बोर्ड 10वीं की परीक्षा देने के लिए बेल्हा आई है। बता दें कि कोरोना संक्रमण के चलते सऊदी अरब में लॉकडाउन है। वहां स्कूल और कॉलेज बंद होने की वजह से आयशा ने शहर से सटे छीटपुर स्थित डाल्फिन पब्लिक स्कूल को परीक्षा केंद्र चुना है। आयशा शहर में एक रिश्तेदार के यहां रुक कर परीक्षा दे रही है।

22 से 10वीं की सेमेस्टर परीक्षाएं शुरू हुईं

सऊदी अरब के जेद्दा में रहने वाले भारतीय मूल के मोहिउद्दीन की बेटी आयशा अपने परिवार संग वहीं रहती है। वह सऊदी स्थित सीबीएसई बोर्ड से संबद्ध इंटरनेशनल इंडियन स्कूल जेद्दा में 10वीं की छात्रा है। सऊदी में कोरोना संक्रमण के चलते स्कूल और कॉलेज बंद चल रहे हैं। 22 नवंबर से CBSE बोर्ड ने 10वीं की सेमेस्टर परीक्षाएं शुरू की हैं। परीक्षा में शामिल होने के लिए आयशा ने शहर से सटे डाल्फिन पब्लिक स्कूल को चुना है।

लॉकडाउन की वजह से सऊदी में स्कूल बंद

शहर में उसके रिश्तेदार रहते हैं। आयशा का पहला पेपर 30 नवंबर को था। वह परीक्षा से दो दिन पहले बेल्हा आई। 30 नंवबर को सोशल साइंस का पेपर था। दो दिसंबर को विज्ञान और 4 दिसंबर को मैथ का पेपर दिया। मंगलवार को आयशा ने अरबिक पेपर की परीक्षा दी। परीक्षा देने के बाद आयशा ने बताया कि लॉकडाउन की वजह से सऊदी में स्कूल बंद था।

11 दिसंबर को है आखिरी पेपर

परीक्षा देने के लिए उसे परीक्षा केंद्र चुनने का मौका दिया गया था। बेल्हा में रिश्तेदार का घर है। ऐसे में मैंने परीक्षा केंद्र यहां के लिए चुना। 11 दिसंबर को आयशा का आखिरी पेपर इंग्लिश लैंग्वेज का है। कॉलेज के प्रधानाचार्य मनोज कुमार त्रिपाठी ने बताया कि सऊदी अरब से आई आयशा कॉलेज में 10वीं की परीक्षा दे रही है। मंगलवार को उसका अरबिक का पेपर था। 11 दिसंबर को उसका आखिरी पेपर है।