सैकड़ों लोगों ने कौंधियारा थाने का किया घेराव:थाना प्रभारी पर आरोपियों को शरण देने और गंभीर मामलों में गिरफ्तारी न करने का आरोप

बारा8 दिन पहले
सैकड़ों लोगों ने कौंधियारा थाने का किया घेराव।

भारतीय किसान यूनियन भानु के बैनर तले संगठन से जुड़े किसानों ने कौंधियारा थाने का घेराव किया और थाना प्रभारी गंभीर आरोप लगाए गए हैं। किसान नेताओं के द्वारा मंच से दिए जा रहे भाषण में जहां अपराधियों को थाने में बुलाकर आश्रय देने और गंभीर मामलों में नामजद आरोपियों की गिरफ्तारी न करने जैसे गंभीर आरोप लगाए जा रहे हैं। वहीं कौधियारा थाने के बाहर लगभग 100 से भी ज्यादा लोग दरी बिछाकर धरना प्रदर्शन कर रहे हैं, जिसमें किसान संगठन के कई क्षेत्रीय पदाधिकारी भी हैं।

भारतीय किसान यूनियन भानू के मंडल महासचिव कृष्ण कुमार मिश्रा के द्वारा बताया कि कौंधियारा थाने को अपराधी चला रहे हैं, जबकि कई संगीन धाराओं में दर्ज मुकदमों में नामजद लोगों की गिरफ्तारी अभी तक नहीं हुई है। इसमें कोल्हुआ में महिला की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत में आत्महत्या के लिए प्रेरित करने का मुकदमा नामजद दर्ज हुआ है। वहीं पिपरहटा गांव में हत्या की साजिश रचते हुए एक व्यक्ति का एक्सीडेंट के माध्यम से मौत के घाट उतारा गया जिसमें छः लोगों को नामजद किया गया है। इन मामलों में आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है।

इसी के साथ कई अन्य मामलों को लेकर के किसान संगठन के द्वारा धरना प्रदर्शन किया जा रहा है। इस धरना प्रदर्शन में संगठन के अनिल कुमार बिंद के द्वारा बताया गया कि थाने में केवल चंद लोगों की बातें सुनी जाती हैं और पीड़ित को न्याय मिलने के बजाय उन्हें दुत्कार कर भगा दिया जाता है। इसको देखते हुए किसान संगठन के द्वारा संगठन के बैनर तले थाने के बाहर आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर के धरना प्रदर्शन किया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...