हनुमान जयंती का कार्यक्रम:पूर्णिमा तिथि को भगवान शिव के ग्यारहवें अवतार पवनपुत्र हनुमान का धरती पर हुआ था अवतरण

करछना, प्रयागराज3 महीने पहले

करछना। शनिवार को हनुमान जयंती के शुभ अवसर पर नैनी महेवा के मंदिरों में भारी संख्या में भक्तों ने आरती, पूजा, पाठ कर बड़ी धूमधाम से मनाया गया। हनुमान जन्मोत्सव की शुभकामनाएं देते हुये प्रयागराज मेयर अभिलाषा गुप्ता नंदी ने कहा कि श्री राम भक्त हनुमान जी भक्ति, शक्ति और सद्बुद्धि के दाता हैं।

हनुमान जन्मोत्सव के अवसर पर उन्होंने कहा कि जिस प्रकार हनुमान जी का सम्पूर्ण जीवन प्रभु राम जी के लिये समर्पित था। मेयर ने कहा कि महाबली हनुमान जी अपने लिए नहीं जिए, अपने लिए, कुछ भी नहीं किया। उन्होंने सब कुछ प्रभु के लिए तथा जो भी है वह सब भी प्रभु का है और इसी भाव से स्वयं को भी प्रभु को समर्पित कर दिया। उन्होंने कहा कि प्रभु हम सभी को भी हनुमान जी जैसी उदारता, प्रभु भक्ति, अटूट सेवाभाव और समर्पण भाव प्रदान करें, ताकि हम भी समाज और समष्टि की सेवा में अपने को समर्पित कर सकें। यही हम सभी के लिए हनुमान जी का संदेश और इसी भाव से ही हम सभी के हृदयों में हनुमान जी का अवतरण हो।

आज हनुमान जन्मोत्सव के अवसर पर मंदिरों में सुन्दर काण्ड का पाठ, आरती और हनुमान चालीसा का पाठ किया। उन्होंने कहा कि हिन्दू पंचांग के अनुसार चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि को भगवान शिव के ग्यारहवें अवतार पवनपुत्र हनुमान का धरती पर अवतरण हुआ था। बजरंगबली के जन्मोत्सव के अवसर पर भक्ति गीत पर डांस प्रतियोगिता का आयोजन भी किया गया। बजरंगबली की महिमा अपरंपार है और उनकी आराधना भी एक रामबाण है।

इस अवसर पर अवधेश रॉय, अमित प्रताप सिंह, दिनेश यादव, राकेश, राजीव कुमार, ओमकार नाथ, सच्चिदानन्द मीरा देवी, संगीता, अनुराधा सहित दर्जनों भक्त उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...