असिस्टेंट टीचर-प्रिंसिपल परीक्षा का पर्चा आउट:प्रयागराज में प्रिंसिपल की बेटी के लिए पेपर लीक, STF ने 2 को दबोचा; बहन-भाई समेत 4 फरार

प्रयागराज8 महीने पहले

उत्तर प्रदेश में रविवार को हुई एडेड जूनियर हाईस्कूल प्रिंसिपल/असिस्टेंट टीचर सेलेक्शन परीक्षा-2021 में बड़ी धांधली सामने आई है। परीक्षा के बीच प्रयागराज में डॉ. केएन काटजू इंटर कॉलेज के प्रिंसिपल राम नयन द्विवेदी और टीचर अशोक तिवारी ने पर्चा आउट कर दिया। इसकी भनक STF को लग गई। STF ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया है।

STF के सीओ नवेंदु सिंह ने बताया कि प्रिंसिपल ने बेटी को पास कराने के लिए पेपर आउट कराया है। कॉलेज के वाइस प्रिंसिपल आकाश खरे, प्रिंसिपल का बेटा अनुग्रह उर्फ छोटू, बेटी आकांक्षा द्विवेदी और सॉल्वर वीरेंद्र कुमार फरार हैं। इनकी तलाश की जा रही है।

ऐसे हुआ पेपर लीक
आरोपी अशोक तिवारी ने STF को बताया कि 9 बजकर 37 मिनट पर पेपर क्लास में पहुंचा तो प्रिंसिपल राम नयन के कहने पर उसकी फोटो खींच ली। उसके बाद फोटो प्रिंसिपल के बेटे और वाइस प्रिंसिपल को भेज दी, ताकि वो सॉल्वर की मदद से प्रिंसिपल की बेटी आकांक्षा का पेपर हल करा सकें। आकांक्षा भारत स्काउट्स एंड गाइड इंटर कॉलेज परीक्षा केंद्र पर पेपर दे रही थी।

अब STF इन सवालों का जवाब तलाश रही

  • क्या प्रिंसिपल ने सिर्फ अपने पास ही रखा था पेपर? या किसी और को भी दिया।
  • प्रिंसिपल के मोबाइल, कम्प्यूटर की तकनीकी विशेषज्ञों से जांच
  • प्रिंसिपल ने कैसे अंजाम दिया पूरा घटनाक्रम।
सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी की ओर से टीचर भर्ती की परीक्षा पूरे प्रदेश में 737 केंद्रों पर कराई गई। यह परीक्षा दो पालियों में हुई।
सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी की ओर से टीचर भर्ती की परीक्षा पूरे प्रदेश में 737 केंद्रों पर कराई गई। यह परीक्षा दो पालियों में हुई।

प्रयागराज में कई केंद्रों पर हंगामा
प्रयागराज में एक माध्यमिक विद्यालय में कुछ अभ्यर्थियों में प्रश्न पत्र का हल दिए जाने की अफवाह फैली। इसके बाद परीक्षा केंद्र पर हंगामा शुरू हो गया। नारेबाजी तक हुई। हालांकि, मौके पर तैनात पुलिस बल ने लोगों को शांत करा दिया।
परीक्षा केंद्र से निकले अभ्यर्थियों ने रोष व्यक्त करते हुए बताया कि कुछ लोगों को पहले से ही प्रश्न पत्र का हल दे दिया गया था। जब विरोध शुरू हुआ तो परीक्षा केंद्र के संचालकों ने जबरन कॉपी छीन ली। अभ्यर्थियों ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि करीब 6 से ज्यादा अभ्यर्थियों को प्रश्न पत्र का हल दे दिया गया था।

प्रदेशभर में 737 सेंटर्स पर हुई परीक्षा
सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी की ओर से टीचर भर्ती की परीक्षा पूरे प्रदेश में 737 केंद्रों पर कराई गई। यह परीक्षा दो पालियों में हुई। पहली पाली की परीक्षा प्रदेश के 688 केंद्रों पर सुबह 10 से 12:30 तक और दूसरी पाली की परीक्षा 2 बजे से तीन बजे तक 49 केंद्रों पर हुई। इसमें एडेड जूनियर हाईस्कूल के असिस्टेंट टीचर के पदों पर 1504 और प्रिंसिपल के 309 पदों के लिए तीन लाख 39 हजार कैंडिडेट्स ने आवेदन किया है।

खबरें और भी हैं...