CD की तलाश में आनंद को हरिद्वार ले गई CBI:फ्लाइट से देहरादून रवाना हुई जांच एजेंसी, हरिद्वार के आश्रम में आनंद के लैपटॉप व अन्य गैजेट्स खंगालेगी

प्रयागराज2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

महंत नरेंद्र गिरि की मौत के मामले में सीबीआई की जांच आनंद गिरि के इर्द-गिर्द ही घूम रही है। दो दिनों तक प्रयागराज में पूछताछ के बाद सीबीआई आनंद गिरि को प्रयागराज से हरिद्वार लेकर रवाना हो गई है। सूत्रों का कहना है कि सीबीआई आनंद के हरिद्वार आश्रम में उस रहस्यमयी CD का पता लगाना चाहती है, जिसके वायरल होने की आशंका महंत नरेंद्र गिरि को थी।

शाम 4 बजे की फ्लाइट से आनंद को लेकर सीबीआई अफसर देहरादून रवाना हो गए हैं। इसके बाद वहां से सड़क मार्ग से आनंद को हरिद्वार ले जाया जाएगा। बताया जा रहा है कि दो दिनों की पूछताछ में सीबीआई को कई अहम सुराग मिले हैं। आधिकारिक तौर पर सीबीआई कुछ नहीं कह रही है, लेकिन सूत्रों का कहना है कि हरिद्वार में आनंद के आश्रम की तलाशी में सीबीआई को वो रहस्यमयी फुटेज मिलने की उम्मीद है।

आनंद के लैपटॉप व गैजेट्स को खंगालेगी सीबीआई
बताया जा रहा है कि आनंद के सील आश्रम में सीबीआई उसके हर इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स की तलाशी लेना चाहती है। ये भी जांच का विषय है कि आनंद ने हार्ड डिस्क से कोई डेटा डिलीट तो नहीं किया है। डिलीट डेटा रिट्रीव किया जाएगा।

आद्या और संदीप तिवारी से पुलिस लाइन में हो रही पूछताछ
इस मामले में गिरफ्तार लेटे हनुमान मंदिर के मुख्य पुजारी आद्या तिवारी और उसके बेटे संदीप तिवारी से सीबीआई प्रयागराज में ही पूछताछ कर रही है। उन्हें प्रयागराज के पुलिस लाइन में ही रखा गया है।

7 दिन की रिमांड पर हैं तीनों आरोपी
सीबीआई ने 27 सितंबर को आनंद, आद्या और संदीप को 7 दिन की पुलिस रिमांड पर लिया है। तीनों से अलग-अलग पूछताछ की जा रही है। माना जा रहा है अगले दो दिनों तक अब आनंद से हरिद्वार में ही पूछताछ होगी।

आश्रम में एक माह में मिलने वालों से होगी पूछताछ
आनंद गिरि के आश्रम में पिछले एक माह में मिलने जुलने वालों का भी रिकॉर्ड खंगाला जाएगा। सीबीआई आनंद से मिलने वालों से भी पूछताछ करेगी। सूत्रों ने इस बात की जानकारी पहले ही दे दी थी कि सीबीआई आनंद गिरि को पूछताछ के लिए हरिद्वार स्थित उनके आश्रम ले जा सकती है। माना जा रहा है कि सीबीआई हरिद्वार से लौटने के बाद हनुमान मंदिर और श्री बाघंबरी गद्दी मठ भी आनंद गिरि को लेकर जाएगी।

सुसाइड नोट में नरेंद्र गिरि ने आनंद, आद्या और संदीप को ठहराया था मौत का जिम्मेदार
नरेंद्र गिरि ने अपने सुसाइड नोट में आनंद गिरि, आद्या प्रसाद तिवारी और संदीप तिवारी को अपनी मौत का जिम्मेदार ठहराया था। लिखा था, तीनों मिलकर मुझे ब्लैकमेल कर रहे हैं। एक महिला के साथ सीडी वायरल करने की धमकी दे रहे हैं। सीबीआई ने इसी इनपुट के आधार पर पिछले दिनों यूपी पुलिस द्वारा गिरफ्तार आनंद गिरि, आद्या तिवारी और संदीप तिवारी को 28 सितंबर को सात दिन की रिमांड पर लिया था। यह रिमांड चार अक्टूबर तक रात नौ बजे तक है। ऐसे में सीबीआई तीनों आरोपियों से दो दिन तक लगातार पूछताछ कर रही है। इसी कड़ी में इस मामले के मुख्य अभियुक्त आनंद गिरि को हरिद्वार लेकर गई है।

खबरें और भी हैं...