पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में बेटियों ने झटके 133 मेडल:विश्वविद्यालय का दीक्षांत समारोह 23 को, 304 पदकों से नवाजे जाएंगे होनहार; 386 छात्रों को मिलेगी PHD की डिग्री

प्रयागराज20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
इलाहाबाद विश्वविद्यालय का दीक्षांत समारोह 23 सितंबर को है। - Dainik Bhaskar
इलाहाबाद विश्वविद्यालय का दीक्षांत समारोह 23 सितंबर को है।

इलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय में भी बेटियों ने अपना बुलंद किया है। 23 सितंबर को प्रस्तावित दीक्षांत समारोह में बंटने वाले कुल 304 पदकों में से 133 पदकों पर बेटियों ने कब्जा जमाया है। दीक्षांत समारोह में 386 शोधार्थियों को पीएचडी की उपाधि से भी नवाजा जाएगा।

विश्वविद्यालय ने पदकवीरों की सूची अपने आधिकारिक पोर्टल पर जारी की है। इस बार दीक्षांत समारोह में शैक्षणिक सत्र 2018-19 और 2019-20 के 304 होनहारों को मेडल से अलंकृत किया जाएगा। पिछले शैक्षिक सत्र में कोविड-19 के कारण दीक्षांत समारोह नहीं हो पाया था।

शैक्षणिक सत्र 2018-19 में 146 मेधावियों को पदक से नवाजा जाएगा, जिसमें 66 पदक बेटियों के नाम हैं। 2019-20 सत्र के कुल 158 मेधावियों को पदक दिया जाना है, जिसमें सर्वाधिक 67 पदक बेटियों के नाम रहा है।

गीतकार गुलजार को दी जाएगी मानद उपाधि

इस समारोह में मशहूर गीतकार गुलजार को डी.लिट की मानद उपाधि दी जाएगी। अर्थशास्त्र विभाग के प्रोफेसर प्रशांत घोष ने कविता, फिल्म और संस्कृति के क्षेत्र में अहम योगदान देने पर गुलजार को मानद उपाधि देने का प्रस्ताव रखा था, जिसे एकेडमिक काउंसिल ने मंजूर कर लिया है। गुलजार ने भी समारोह में शामिल होने के लिए प्रयागराज आने की सहमति दी है।

केंद्रीय शिक्षा मंत्री होंगे मुख्य अतिथि

इलाहाबाद विश्वविद्यालय की जनसंपर्क अधिकारी डॉक्टर जया कपूर ने बताया कि समारोह के मुख्य अतिथि केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान होंगे। विशिष्ट अतिथि के रूप में विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) के चेयरमैन प्रोफेसर डीपी सिंह मौजूद रहेंगे। समारोह में कुलाधिपति आशीष चौहान और चीफ रेक्टर राज्यपाल आनंदी बेन पटेल भी शामिल होंगी।

मुख्य बिंदु

  • 23 सितंबर को होगा इलाहाबाद विश्वविद्यालय का दीक्षांत समारोह।
  • 2 सत्र के मेधावियों को एक साथ वितरित की जाएंगी डिग्री व पदक।
  • 304 छात्र-छात्राओं को विभिन्न पदकों से किया जाएगा अलंकृत।
  • 386 होनहारों को दी जाएगी पीएचडी की उपाधि।
  • 133 पदक लड़कियों की आबादी की झोली में जाएंगे।
  • 146 पदक सत्र 2018-19 और 158 पदक 2019-20 सत्र के।
खबरें और भी हैं...