• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Prayagraj
  • Au Fee Hike Issue : Central Government Vice Chancellor's Effigy Burnt: Movement Against Fee Hike Continues, Declaration Of A Long Fight Against Dogma Of AU Administration

प्रयागराज में छात्रों ने फूंका कुलपति का पुतला:फीस वृद्धि के विरोध में आंदोलन जारी, AU प्रशासन की हठधर्मिता के खिलाफ लंबी लड़ाई का ऐलान

प्रयागराज2 महीने पहले
इलाहाबाद विश्वविद्यालय में बुधवार को कुलपति का पुतला दहन किया गया।

इलाहाबाद विश्वविद्यालय प्रशासन में प्रशासनिक अफसरों की मध्यस्थता के बाद हुई राउंड टेबल टॉप भले ही असफल हो गई हो पर छात्रों ने फीस वृद्धि के खिलाफ आंदोलन जारी रखा है। इसी कड़ी में बुधवार को छात्रों ने इलाहाबाद विश्वविद्यालय कैंपस में केंद्र सरकार व कुलपति का पुतला दहन किया।

इलाहाबाद विश्वविद्यालय में फीस वृद्धि के विरोध में वीसी का पुतला दहन किया।
इलाहाबाद विश्वविद्यालय में फीस वृद्धि के विरोध में वीसी का पुतला दहन किया।

आमरण अनशन जारी रहेगा

इलाहाबाद विश्वविद्यालय में छात्रसंघ भवन पर छात्रसंघ बहाली की मांग को लेकर छात्रसंघ संयुक्त संघर्ष समिति के नेतृत्व में 805 दिन से अनशन चल रहा है। इसकेे अलावा 400% फीस वृद्धि के विरोध में आमरण अनशन चल रहा है। बुधवार को 30वें दिन पुतला दहन किया गया।

छात्रनेता अजय यादव सम्राट का कहना है कि विजयदशमी के दिन छात्रों ने असत्य और अशिक्षा के प्रतीक अहंकारी नेताओं और विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो. संगीता श्रीवास्तव का पुतला दहन किया। छात्र नेता सत्यम कुशवाहा व हरेंद्र यादव ने कहा कि ये रावण रूपी अहंकारी लोग नहीं चाहते कि गरीब का बच्चा विश्वविद्यालय में आकर पढ़े। वह नहीं चाहते कि इलाहाबाद विश्वविद्यालय का गौरव वापस आए। छात्र पिछले 30 दिनों से पिछले 30 दिनों से भूख हड़ताल पर बैठे हैं, लेकिन इनका कलेजा तक नहीं पसीजा। केंद्र सरकार भी छात्रों के हितों को ताक पर रखकर नीतियां बना रही है। ऐसे में छात्र केंद्र सरकार को तिलांजलि देने का काम करेंगे।

इस मौके पर छात्रसंघ उपाध्यक्ष अखिलेश यादव, छात्र नेता अजय सम्राट, राहुल पटेल, विजयकांत, भानु, शशांक, हरिकेश कुमार, अभिषेक यादव, प्रशांत, मंजीत पटेल, यशवंत, मो. अशफाक, जितेंद्र धनराज, शिवबली, गौरव गौंड, मो. असफाक, यशवंत, आयुष प्रियदर्शी, अनुराग, आनंद सांसद, राहुल सरोज, अमित आदि लोग उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...