नए साल के स्वागत में संगमनगरी में जश्न:प्रयागराज में देर रात तक तक चली पार्टियां, मंदिरों में दर्शन कर नए साल की हुई शुरूआत

प्रयागराज9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नए साल को यादगार बनाने के लिए संगम तट पर सेल्फी लेते युवती। - Dainik Bhaskar
नए साल को यादगार बनाने के लिए संगम तट पर सेल्फी लेते युवती।

नए साल 2022 के स्वागत में संगमनगरी भी सरोबार रहा। देर रात होटल व रेस्टोरेंट से लेकर सड़कों तक नए साल का जश्न दिखा। होटलों में डीजे की धुन पर थिरकते युवाओं ने नए साल का स्वागत किया तो वहीं नए ज्यादातर लोग मंदिरों में जाकर दर्शन पूजन करके नए साल की शुरूआत की।नए साल के पहले ही दिन शहरवासी संगम पहुंचकर मां गंगा, यमुना और सरस्वती में आस्था की डुबकी भी लगाई। रात भर आतिशबाजी का भी सिलसिला जारी रहा। हालांकि सुरक्षा की दृष्टिकोण से रात भर चौराहों पर पुलिस भी मुस्तैद रही।

रात के 12 बजते ही शुरू हुआ बधाईयों का सिलसिला

31 दिसंबर को रात 12 बजे से ही लोग एक दूसरे को वाट्सएप, इंस्टाग्राम व ट्वीटर के जरिए एक दूसरे को नए साल की बधाई देने लगे। कोई फोन कॉल के जरिए एसएमएस के जरिए शुभकामना संदेश देते रहे। देर रात शुरू हुआ बधाईयों का दौर सुबह तक चलता रहा।

संगम की रेती पर सैंड आर्ट के जरिए नए साल का स्वागत

इलाहाबाद विश्वविद्यालय के दृश्य कला विभाग के छात्र-छात्राओं ने नायाब तरीके से नए साल का स्वागत किया। वह संगम के तट पर सैंड आर्ट के जरिए HAPPY NEW YEAR लिखकर वहां सेल्फी प्वांइट बना दिया। यहां बड़ी संख्या में लोग सेल्फी लेते नजर आए। इस कला को बनाने वाले सैंड आर्टिस्ट अजय कुमार गुप्ता, मनोज कुमार आशीष निषाद आदि ने कहा कि सैंड आर्ट के जरिए हम लोगों ने नए साल का स्वागत किया और यहां आने वाले लोगों काे कोरोना का टीका लगवाने का भी संदेश दिया।

खबरें और भी हैं...