प्रयागराज में कोरोना से वृद्धा की मौत:SRN हॉस्पिटल के ICU में चल रहा था इलाज, नैनी की रहने वाली थी महिला

प्रयागराज6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रयागराज में बढ़ा खतरा, तीसरी लहर में कोविड से पहली मौत। - प्रतीकात्मक फोटो - Dainik Bhaskar
प्रयागराज में बढ़ा खतरा, तीसरी लहर में कोविड से पहली मौत। - प्रतीकात्मक फोटो

प्रयागराज में कोविड के तीसरी लहर के बीच पहली मौत स्वरूपरानी नेहरू अस्पताल (SRN) में होने की पुष्टि हुई है। मृतका नैनी क्षेत्र की रहने वाली थी और वह शुक्रवार की देर रात शहर के निजी अस्पताल से SRN अस्पताल रेफर की गई थी। डॉक्टरों के मुताबिक, वह 50 फीसद जल गई थी इसलिए उसकी हालत गंभीर थी और जांच में कोरोना होने की पुष्टि होने की वजह से उसे कोविड आइसीयू के आठ नंबर में भर्ती किया गया था।

अस्पताल के कोविड के नोडल डॉ. सुजीत कुमार वर्मा ने बताया कि मरीज की हालत गंभीर थी उसे जीवन ज्योति अस्पताल ये यहां देर रात भेजा गया था। इलाज के दौरान उसने देर रात ही अंतिम सांस ली। डॉक्टर ने बताया कि मृतका ने कोविड की दोनों डोज लगवा लिया था। अब शव का अंतिम संस्कार कोविड प्रोटोकाल के तहत कराया जाएगा।

बढ़ रहे हैं लगातार केस, तीन मरीज गंभीर

प्रयागराज में कोविड के लेवल तीन का अस्पताल बनाया गया है। यही कारण है कि यहां कोरोना के गंभीर मरीजों काे भर्ती किया जाता है। दूसरी लहर में यहां बड़ी संख्या में कोरोना मरीजों को जान गंवानी पड़ी थी। एसआरएन अस्पताल की आइसीयू में तीन ऐसे कोरोना मरीज भर्ती हैं जिनकी हालत गंभीर है और उन्हें बाई पैप पर रखकर इलाज किया जा रहा है। यहां कुल आठ कोरोना मरीज भर्ती किए गए हैं।

खबरें और भी हैं...