पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Prayagraj
  • Expressing Concern Over The Increasing Incidents Of Death Due To Consumption Of Spurious Liquor, The Allahabad High Court Has Said That Such People Are Not Only Criminals Of The Victim But Of The Society.

समाज के अपराधी हैं जहरीली शराब बेचने वाले:HC ने आरोपी की जमानत अर्जी खारिज करते हुए कहा- ऐसे लोग आम लोगों के जीवन से खेलते हैं, इनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए

प्रयागराज22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हाईकोर्ट ने कहा कि नकली शराब बेचने वाले विधवाओं व अनाथों को जन्म दे रहे हैं। - Dainik Bhaskar
हाईकोर्ट ने कहा कि नकली शराब बेचने वाले विधवाओं व अनाथों को जन्म दे रहे हैं।

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने जहरीली शराब पीने से मौत की बढ़ती घटनाओं पर चिंता जाहिर करते हुए कहा है कि ऐसे लोग न सिर्फ पीड़ित के बल्कि समाज के अपराधी हैें। कोर्ट ने कहा कि पैसे के लालच में नकली शराब बेचने वाले लोगों के जीवन से खेल रहे हैं। ये विधवाओं व अनाथों को जन्म दे रहे हैं। ऐसे लोगों पर कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए।

यह आदेश न्यायमूर्ति सौरभ श्याम शमशेरी ने संगीता जायसवाल की अर्जी पर दिया है। कोर्ट ने कहा प्रयागराज के फूलपुर,की अमिलिया देशी शराब के ठेके से नकली शराब पीने से 6 लोगों की मौत व दर्जनों के बीमार होने की घटना गंभीर है। याची के महिला होने के नाते ऐसे अपराध में राहत नहीं दी जा सकती। मरने से बचे लोगों को आगे चलकर गंभीर बीमारियां हो सकती हैं। जमानत पर छूटने पर पीड़ितों को धमकाए जाने की संभावना है। कोर्ट ने जमानत अर्जी खारिज कर दी है।

19 नवंबर 2020 को जहरीली शराब पीने से छह लोगों की हुई थी मौत

आबकारी निरीक्षक विजय प्रताप यादव ने फूलपुर थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है।याची के पति श्याम बाबू जायसवाल व सेल्समैन जगजीत सिंह को नकली शराब बेचने का आरोपी बनाया गया है।19 नवंबर 20 को लोगों ने ठेके से शराब खरीदी थी।

पीने के बाद बीमार पड़ने पर अस्पताल में भर्ती कराया गया। छः लोग इस शराबकांड में मारे गए थे। सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और आसपास के लोगों के बयान के आधार पर प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। सेल्समैन जगजीत सिंह को गिरफ्तार कर नमूना जांच के लिए भेजा गया है।

कोर्ट ने कहा कि प्रदेश में जहरीली शराब पीने से मौत की की घटनाएं हुई हैं। पिछले 11 महीनों में 96 लोगों की जहरीली शराब पीने से मौत हो चुकी है। इसमें समाज के हाशिए के लोग पीड़ित हैं। मृतकों के शरीर से इथाइल, मिथाइल जहर मिला है जोकि गंभीर अपराध है।

खबरें और भी हैं...