हनुमान जयंती पर भक्तों का तांता:प्रयागराज के नगर कोतवाल के रूप में माने जाते हैं बजरंग बली, शहर में निकाली झांकियां

प्रयागराज7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
संगम स्थित लेटे हनुमान जी का भव्य स्वरूप। - Dainik Bhaskar
संगम स्थित लेटे हनुमान जी का भव्य स्वरूप।

आज हनुमान जयंती है। हनुमानजी प्रयागराज के नगर कोतवाल के तौर पर पूजे जाते हैं। इस वजह से भी संगम नगरी में हनुमान जयंती का अलग महत्व है। जिले के छोटे-बड़े सभी मंदिरों को भव्यता के साथ सजाया जाता है। प्रयागराज में त्रिवेणी बांध स्थित लेटे हनुमान जी का रत्नजड़ित आभूषणों से श्रृंगार करके 56 भोग अर्पित किया जाएगा। शहर में कई जगह शोभायात्रा भी निकाली जा रही है।

सिटी के अलग-अलग क्षेत्र से हनुमान जयंती पर निकाली शोभायात्रा।
सिटी के अलग-अलग क्षेत्र से हनुमान जयंती पर निकाली शोभायात्रा।

हनुमान की निकाली शोभायात्रा
गोविंदपुर हनुमान मंदिर समिति की ओर से शोभायात्रा निकाली गई। जगह-जगह हनुमान जी की आरती की गई। वहीं श्रीकटरा रामलीला कमेटी की ओर से महर्षि भारद्वाज आश्रम में आरती पूजन करके हनुमान जी की शोभायात्रा निकाली जा रही है। प्राचीन मां ललिता देवी मंदिर प्रांगण में स्थित संकटमोचन श्री हनुमान लला का प्राकट्य उत्सव धूमधाम से मनाया गया।

संगम स्थित लेटे हनुमान मंदिर परिसर में पूजा-अर्चन करते श्रद्धालु।
संगम स्थित लेटे हनुमान मंदिर परिसर में पूजा-अर्चन करते श्रद्धालु।

मंदिरों में चल रहा सुंदरकांड पाठ
त्रिपौलिया स्थित प्राचीन बाल रूप हनुमान मंदिर में सुंदरकांड का सामूहिक पाठ चल रहा है। वहीं लेट हनुमान मंदिर संगम पर श्रीराम चरित मानस पाठ के साथ आसपास के मंदिरों में सुंदरकांड पाठ चल रहा है। सिविल लाइंस स्थित हनुमान मंदिर में भी सुंदरकांड का पाठ किया गया।

खबरें और भी हैं...