प्रयागराज में हादसा:NTPC मेजा के गोदाम में शॉर्ट सर्किट से लगी भीषण आग, 1KM दूर तक दिखी लपटें; 25 लाख का नुकसान

प्रयागराज5 महीने पहले
गोदाम में रखे लकड़ी के सामान, रॉ मैटेरियल एवं अन्य सामान जला, 25 लाख से ज्यादा की क्षति का अनुमान।

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज अंतर्गत यमुनापार में एनटीपीसी लिमिटेड एवं उत्तर प्रदेश राज्य विद्युत उत्पादन निगम के संयुक्त उपक्रम मेजा ऊर्जा निगम लिमिटेड के गोदाम में संदिग्ध परिस्थितियों में आग लग गई। आग की लपटें और धुआं इतना भीषण था कि एक किलोमीटर दूर तक दिखाई पड़ रहा था। कंपनी परिसर में स्थित सीआईएसफ और फायर ब्रिगेड की टीम ने दो से ढाई घंटों की मशक्कत के बाद आग पर काबू पा लिया। लेकिन गोदाम में रखा सारा सामान जलकर नष्ट हो गया। अब एनटीपीसी के अधिकारी एवं गोदाम इंचार्ज इस आगजनी में हुए नुकसान का आकलन करने में जुटे हुए हैं। वहीं, मेजा इंस्पेक्टर अरुण चतुर्वेदी ने बताया कि आग में 20 से 25 लाख का नुकसान हुआ है। मामले की जांच की जा रही है। फिलहाल वहां आग लगने की वजह शॉर्ट सर्किट बताई गई।

सीआईएसएफ व फायर ब्रिगेड की चार टीमों ने की घंटों मशक्कत, आग पर पाया काबू
यमुनापार के उचडीह में स्थित मेजा ऊर्जा निगम में विद्युत उत्पादन होता है। मंगलवार की देर शाम इसके परिसर में स्थित एक गोदाम में भीषण आग लगी। आग इतनी भयानक थी की, उसकी लपटें करीब 1 किलोमीटर दूर से दिखाई दे रही थी। चारो तरफ धुआं की धुआं छा गया। स्थानीय लोगों ने आनन-फानन में सीआईएसएफ और फायर ब्रिगेड की टीम को सूचना दी। मौके पर पहुंची टीम ने आग पर काबू पाया और स्थित को संभाल लिया।

आग इतनी भयानक थी कि एक किलोमीटर दूर से लपटें दिख रही थी
आग इतनी भयानक थी कि एक किलोमीटर दूर से लपटें दिख रही थी

आगजनी और नुकसान को छिपाने का किया गया प्रयास
घटनाक्रम बाहर न जाए इसके लिए कंपनी कम कर्मचारियों और अधिकारियों ने पूरी लामबंदी की। मंगलवार सुबह तक इस घटना को छुपाए रखा। जब इलाकाई पुलिस इस घटना की जांच करने पहुंची तो मामला खुलकर सामने आया। आग लगने की वजह शॉर्ट सर्किट बताई जा रही है। आग में रॉ-मटेरियल, लकड़ी, फर्नीचर आदि सामान जले हैं।

घटनास्थल में सिर्फ यूजलेस सामान रखे थे, जो आग में जले हैं
घटनास्थल में सिर्फ यूजलेस सामान रखे थे, जो आग में जले हैं

पीआरओ ने कहा- यूजलेस सामान था गोदाम में, क्षति का आकलन अभी नहीं किया गया
एनटीपीसी के जनसंपर्क अधिकारी पवन कुमार पांडे का कहना है कि घटनास्थल में सिर्फ यूजलेस सामान रखे थे, जो आग में जले हैं। बहुत ज्यादा नुकसान नहीं हुआ है। कितने का नुकसान हुआ है, इसका अभी आकलन किया जा रहा है और यह आकलन पूरा होने के बाद ही बताया जा सकता है। आग लगने की वजह भी शॉर्ट सर्किट बताई गई है। लेकिन जिन लोगों ने इस घटना का वीडियो और फोटो बनाया उसे देखकर स्पष्ट कहा जा सकता है कि आगजनी में कोई मामूली नुकसान नहीं हुआ है।

खबरें और भी हैं...