पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Prayagraj
  • In Prayagraj, When The Hotel Worker Asked For Food Money From The UP Police Constable, He Was Beaten Up Badly. Video Footage Of Hotel Worker Beating Goes Viral

प्रयागराज में खाकी वर्दी पर फिर लगा दाग:सिपाही ने होटलकर्मी से पैसा मांगा तो पीटकर अधमरा किया, पुलिस जीप में उठाकर थाने ले गया; वहां पर भी पीटने का आरोप

प्रयागराज13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
13 जुलाई की इस घटना का सीसीटीवी फुटेज वायरल होने के बाद हड़कंप मचा है। सिपाही पर कार्रवाई की तलवार लटक रही है। - Dainik Bhaskar
13 जुलाई की इस घटना का सीसीटीवी फुटेज वायरल होने के बाद हड़कंप मचा है। सिपाही पर कार्रवाई की तलवार लटक रही है।
  • लिखित शिकायत मिलने के बाद पुलिस ने बैठाई जांच, CCTV की जांच के बाद कार्रवाई करने का आश्वासन

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में एक पुलिसकर्मी की करतूत सामने आई है। यहां के सिविल लाइंस बस स्टैंड के पास खाने का पैसा मांगने पर सिपाही ने पहले तो वर्दी का रौब दिखाया जब बात नहीं बनी तो होटलकर्मी को मार-मारकर अधमरा कर दिया। युवक की पिटाई करने वाले सिपाही का एक CCTV फुटेज सामने आने पर हड़कंप मच गया है। अब सिपाही पर कार्रवाई की तलवार लटक रही है।

पीड़ित ने सीओ से लिखित शिकायत की

सिविल लाइंस बस स्टैंड के समीप एक रेस्टोरेंट चलता है, जिसमें 13 जुलाई की रात में एक पुलिस वाला खाना खाने के लिए गया था। पुलिस जीप बाहर खड़ी दिख रही है। खाना खाने के बाद जब वह बाहर निकलने लगा तो वहां मौजूद होटलकर्मी ने सिपाही से पैसा मांगने की हिमाकत कर दी। फिर क्या था सिपाही जी ने पहले वर्दी का रौब गांठा, जब बात नहीं बनी तो लगे मारने उसको। मार-मारकर उसे अधमरा कर दिया। इतने पर भी संतोष नहीें हुआ तो उसे बाहर खड़ी पुलिस जीप में बैठाकर सिविल लाइंस थाने ले गया। वहां पर भी उसे जमकर पीटा गया। बाद में धमकी देकर उसे छोड़ दिया गया।

इस संबंध में होटलकर्मी संतोष ने सीओ सिविल लाइंस, सुधीर कुमार से लिखित शिकायत की है। सुधीर कुमार ने कहा है कि CCTV फुटेज और होटलकर्मी के आरोपों की जांच कराई जा रही है। अगर आरोप सही पाए गए तो कार्यवाही की जाएगी।

जुए की फड़ से रुपये वसूलने पर दो दिन पहले ही सिपाही हुआ था सस्पेंड

संगम नगरी में एक सिपाही का जुए की फड़ से अभी दो दिन पहले ही रुपये की वसूली करता वीडियो वायरल हुआ था। जुए की फड़ पर बैठे जुआरियों से वर्दीधारी सिपाही पैसे की डिमांड कर रहा था। हार-जीत का दांव लगा रहे लोग उसे उसका हिस्सा देकर वहां से विदा करने की बात भी कर रहे थे।

मामला संज्ञान में आने के बाद DIG ने उसे तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया था। उसके खिलाफ विभागीय जांच बैठा दी गई है। DIG सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी ने बताया कि वीडियो वायरल होने के बाद उसकी जांच कराई गई तो पता चला कि वीडियो दो साल पुराना है। जांच में सिपाही दोषी पाया गया था।

खबरें और भी हैं...