ये गिरोह पलभर में उड़ा देता है लग्जरी वाहन:अंतरराज्यीय लग्जरी वाहन चोर गैंग का खुलासा, 25-25 हजार के दो इनामिया समेत पांच चोर गिरफ्तार

प्रयागराज6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
वाहन चोर गिरोह के बारे में जानकारी देते एसपी क्राइम आशुतोष मिश्रा। - Dainik Bhaskar
वाहन चोर गिरोह के बारे में जानकारी देते एसपी क्राइम आशुतोष मिश्रा।

संगम नगरी में रविवार को एक अंतर राज्य वाहन चोर गिरोह पकड़ा गया, जिसमें 25-25 हजार के दो ईनामिया समेत 5 चोर शामिल हैं। इस गिरोह का काम लग्जरी गाड़ियों को चोरी करके उनके जाली दस्तावेज तैयार कराना और फिर उसे पश्चिम बंगाल, बिहार, हरियाणा, दिल्ली आदि राज्यों में बेचने का था। कैंट पुलिस और नारकोटिक्स टीम ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए इन्हें बेली चौराहे के पास से दबोचा है।

ये हैं शातिर चोर

राजू उर्फ राजकुमार यादव पुत्र स्वर्गीय राम प्रसाद यादव निवासी सिलवलिया बुचियान, गोपालगंज बिहार।

मोहम्मद साद पुत्र मो. अनीस निवासी इंग्लिश थाना, मैरवा, सिवान, बिहार।

प्रेम कुमार कुशवाहा पुत्र स्वर्गीय शिवजी कुशवाहा निवासी बरवा कला, बसंतपुर, सिवान, बिहार।

मोहम्मद मोइनुद्दीन मियां पुत्र स्वर्गीय मुसाफिर मियां निवासी बिनसार, महादेवा, ओपी, सिवान, बिहार।

सुनीता कुणाल पुत्र शंभू शर्मा निवासी बैना घोसी, जहानाबाद, बिहार।

पूरे देश में फैला है अपराधियो का नेटवर्क

पकड़े गए चोरों में राजू उर्फ राजकुमार और मो. साद पर 25-25 हजार रुपये का इनाम था। उनके कब्जे से चोरी की छह लग्जरी कार बरामद की गई है। बरामद कारों में फार्च्यूनर व स्कार्पियो है। जिन्हें अभियुक्तों की निशानदेही पर परेड ग्राउंड के पास से बरामद किया गया है। प्रयागराज के पुलिस अधीक्षक अपराध आशुतोष मिश्रा ने बताया कि सभी का लंबा-चौड़ा आपराधिक इतिहास है। इनमें दो अभियुक्तों के खिलाफ 25 हजार का इनाम भी है। जो बेहद शातिर है। बड़ी ही सावधानी से यह गैंग लग्जरी कारों की चोरी करता है।यह गैंग दिल्ली, बिहार, पश्चिम बंगाल, आसाम, उत्तर प्रदेश, झारखंड, मध्य प्रदेश, हरियाणा, उत्तराखंड, महाराष्ट्र, उड़ीसा आदि से कार चोरी करके उसे बेंचते हैं।

खबरें और भी हैं...