प्रयागराज में पत्रकार की संदिग्ध मौत:घर से धान की नर्सरी देखने गए ओम प्रकाश गांव के बाहर पुलिया पर घायलावस्था में मिले थे बेहोश, हत्या की आशंका

प्रयागराज6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ओम प्रकाश भूर्तियां की फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
ओम प्रकाश भूर्तियां की फाइल फोटो।

प्रयागराज में 5 जुलाई की रात करीब 8 बजे गांव के बाहर नहर की पुलिया पर घायल अवस्था में बेहोश मिले पत्रकार की देर रात डेढ़ बजे के करीब मौत हो गई। घरवालों ने हत्या की आशंका जताते हुए पुलिस से कार्रवाई की गुहार लगाई है। हालांकि पुलिस पत्रकार की मौत को संदिग्ध बता रही है। पुलिस का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही स्थिति स्पष्ट होगी।

स्थानीय हिंदी दैनिक अखबार से जुड़े थे ओम प्रकाश
यमुनापार के खीरी थाना अंतर्गत डीही खुर्द गांव निवासी ओम प्रकाश भूर्तियां (35) खेती किसानी के साथ-साथ एक स्थानीय हिंदी दैनिक में ग्रामीण क्षेत्र की पत्रकारिता करते थे। उनके तीन बच्चे हैं। उनके भाई कमलेश प्रसाद भूर्तिया के मुताबिक सोमवार की शाम वह धान की नर्सरी देखने खेत की ओर गए थे।

घरवालों ने ओम प्रकाश भूर्तियां की हत्या की आशंका जताई है।
घरवालों ने ओम प्रकाश भूर्तियां की हत्या की आशंका जताई है।

रात में घरवालों को मिली उनके बेहोश पड़े होने की सूचना
रात में करीब 8:30 बजे घर में सूचना आई कि ओम प्रकाश गांव के बाहर नहर की पुलिया के पास घायलावस्था में बेहोश पड़े हुए हैं। पता चलने पर घर के लोग मौके पर पहुंचे और उन्हें लेकर नजदीकी अस्पताल ले गए। जहां से उन्हें शहर के लिए रेफर कर दिया गया। रात में 11 बजे बाई का बाग स्थित नर्सिंग होम में उन्हें ले जाया गया। वहां से स्वरूपरानी नेहरू चिकित्सालय रेफर किया गया। देर रात एसआरएन में चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

सूचना पर पहुंची पुलिस ने उनके शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हाउस भेज दिया। उनके सिर, चेहरे और शरीर के अन्य हिस्सों पर चोट के निशान थे। घरवालों ने हत्या की आशंका जताई है, लेकिन किसी के खिलाफ कोई नामजद शिकायत ही पत्र नहीं दिया है। उनकी मौत से पत्नी और बच्चों में कोहराम मचा है।

पुलिस बोली-पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद होगी कार्रवाई
सीओ मेजा भीम कुमार गौतम ने बताया कि पत्रकार ओमप्रकाश घायल अवस्था में पड़े मिले थे। वह कैसे घायल हुए, अभी यह स्पष्ट नहीं हो पाया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है। रिपोर्ट आने के बाद उनके मौत की वजह पता चलेगी तो उसके अनुसार कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...