• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Prayagraj
  • Kayakalp's Team Arrived To See The Reality Of The Hospital, Three Member Team Of Government Of India Saw Quality In Bailey Hospital And Blood Bank Prayagraj

अस्पताल की हकीकत देखने पहुंची कायाकल्प की टीम:भारत सरकार की तीन सदस्यीय टीम ने बेली अस्पताल व ब्लड बैंक में देखी गुणवत्ता

प्रयागराज10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
टीबी सप्रू ब्लड बैंक में स्टाफ से जानकारी लेती कायाकल्प की टीम - Dainik Bhaskar
टीबी सप्रू ब्लड बैंक में स्टाफ से जानकारी लेती कायाकल्प की टीम

भारत सरकार की तीन सदस्यीय कायाकल्प की टीम शुक्रवार को तेज बहादुर सप्रू अस्पताल पहुंची। यहां अस्पताल में मरीजों काे मिलने वाले सुविधाओं व गुणवत्ता के बारें जानकारी हासिल की। अस्पताल की सीएमएस से लेकर वार्डब्वाय तक से जानकारी ली। पंजीकरण काउंटर, पैथालॉजी, दवा काउंटर, एक्सरे, एमआरआइ समेत भर्ती मरीजों के वार्ड में भी पहुंचकर वहां की व्यवस्थाओं की पड़ताल की। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत वर्ष 2021-22 के लिए कायाकल्प अवार्ड योजना के तहत यह टीम प्रयागराज आई है। इसमें डा. एएस त्रिपाठी, डा. आशुतोष व डॉ. धर्मेंद्र पाठक हैं। अस्पताल की मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा. किरन मलिक ने बताया कि टीम अस्पताल की व्यवस्थाओं से संतुष्ट रही। उम्मीद है कि कायाकल्प अवार्ड के लिए यह अस्पताल चयनित होगा।

ब्लड बैंक में रखरखाव की जांच पड़ताल

कायाकल्प की टीम टीबी सप्रू ब्लड बैंक पहुंची। यहां ब्लड के रखरखाव की स्थिति देखी। ब्लड बैंक के प्रभारी डा. उत्तम यादव, डा. हेमंत शुक्ला ने टीम को ब्लड बैंक की व्यवस्थाओं के बारे में बताया। इतना ही नहीं टीम के सदस्यों ने गार्ड अशोक तक से पूछताछ की और ब्लड बैंक की कार्य प्रणाली के बारे में जानकारी ली। एसीएमओ डॉ. सत्येन राय ने बताया कि कायाकल्प अवार्ड योजना के तहत बेली अस्पताल का निरीक्षण पूरा हो गया। टीम अब 30 अक्टूबर को जिला महिला चिकित्सालय (डफरिन) जाएगी।

चयन के बाद दी जाती है प्रोत्साहन राशि

क्वालिटी इंश्योरेंस के जिला सलाहकार डॉ. सुभेन्द्र विक्रम सिंह ने बताया कि बेली में कायाकल्प अवार्ड योजना चेकलिस्ट के अनुसार करीब आठ विभागों का असेसमेंट हुआ। उन्होंने बताया कि असेसमेंट की रिपोर्ट जमा होने के बाद भारत सरकार द्वारा निर्धारित विभिन्न मापदंडों पर जांच के बाद लगभग एक से डेढ़ माह में इसका परिणाम घोषित किया जाता है। इसके तहत सरकारी अस्पतालों में स्वास्थ्य सुविधाएं बढ़ाने एवं उनकी गुणवत्ता में सुधार लाने के लिए प्रोत्साहन राशि भी दी जाती है।

खबरें और भी हैं...