पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

प्रयागराज की मेयर ने पेश की मिसाल:गंगा की रेती पर दफनाए गए शव को दी मुखाग्नि, निगम टीम अब तक 25 शवों का कर चुकी है अंतिम संस्कार

प्रयागराज3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रयागराज की मेयर ने शव को दी मुखाग्नि। - Dainik Bhaskar
प्रयागराज की मेयर ने शव को दी मुखाग्नि।

प्रयागराज की प्रथम नागरिक महापौर अभिलाषा गुप्ता नंदी ने गंगा में कटान के बाद दिखे शव को मुखाग्नि देकर एक मिसाल पेश की है। महिला होते हुए भी उनके द्वारा किए गए इस कार्य की हर ओर तारीफ हो रही है।
महापौर ने किया शवों का अंतिम संस्कार

फाफामऊ घाट पर कछार में दफन शव गंगा में तेजी से होने वाली कटान से दिखने लगे हैं। इन शवों के अंतिम संस्कार के लिए नगर निगम की एक टीम घाट पर तैनात की गई है। हर दिन अगर कोई शव दिखता है तो उसका नगर निगम के अधिकारी स्वयं उसका अंतिम संस्कार कर देते हैं। गुरुवार को महापौर अभिलाषा गुप्ता को जब पता चला कि आज फिर एक शव बाहर दिखने लगा है तो उन्होंने घाट पर पहुंचकर शव को स्वयं मुखाग्नि देने का निर्णय लिया। हिंदू रीति-रिवाज से उसका दाह संस्कार किया गया।

गंगा का जलस्‍तर बढ़ा, बाहर आने लगे दफनाए गए शव
कोरोना की दूसरी लहर में फाफामऊ और श्रुंगवेरपुर में दफनाए गए कई शव अब बाहर दिखने लगे हैं। अगर कटान ज्यादा तेज हुई तो उन शवों का गंगा में बहना तय है। फिलहाल कटान के बाद जो शव दिख जाते हैं उनका अंतिम संस्कार नगर निगम द्वारा किया जा रहा है। रोज एक से दो शव दिख ही जा रहे हैं। इसके मद्देनजर शवों की निगरानी के लिए महापौर की अध्यक्षता में एक समिति का गठन किया गया है। घाटों पर टीमें तैनात की गई हैं।

पहली बार 4 मई को हुआ था दिखे शव का अंतिम संस्कार
फाफमऊ में गंगा का जलस्तर बढ़ने के बाद पहली बार चार मई को गंगा के कछार में दफन एक शव दिखा था। इसके बाद उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया था। महापौर अभिलाषा गुप्ता ने बताया कि अब तक कटान से दिखने वाले 25 शवों का अंतिम संस्कार किया जा चुका है। गुरुवार को 25 वें शव का दाह संस्कार किया जाना था इसलिए जोनल अधिकारी नीरज कुमार ने मुझसे आग्रह किया था।

खबरें और भी हैं...