• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Prayagraj
  • Narendra Giri Death Case : Anand Giri, Who Returned From Haridwar, Looked Confident, CBI's Hands Empty In The Investigation So Far, No Concrete Evidence Found

...जब आनंद गिरि बोले- बजरंगबली की जय...सब अच्छा होगा:हरिद्वार से लौटे आनंद गिरि आत्मविश्वास से लबरेज दिखे, अभी तक CBI के हाथ खाली, नहीं मिले कोई ठोस सुबूत

प्रयागराज4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रयागराज एयरपोर्ट से बाहर आते आनंद गिरि। - Dainik Bhaskar
प्रयागराज एयरपोर्ट से बाहर आते आनंद गिरि।

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष नरेंद्र गिरि की मौत का भले ही आनंद गिरि को जिम्मेदार ठहराया गया हो, लेकिन अभी तक की सीबीआई जांच में उनके खिलाफ कुछ खास सबूत हाथ नहीं लगे हैं। यह हम नहीं कह रहे, बल्कि छोटे महंत के नाम से मशहूर आनंद गिरि का आत्मविश्वास कह रहा है। हरिद्वार से सीबीआई जब उन्हें प्रयागराज एयरपोर्ट पर लेकर उतरी तो एयरपोर्ट से बाहर निकलते समय कैमरे के सामने आनंद गिरी बोले बजरंग बली की जय... सब अच्छा होगा... सब अच्छा ही होगा। उनके चेहरे पर तनिक भी डर और भय नहीं दिख रहा था।

आनंद गिरि को लेकर श्री मठ बाघंबरी गद्दी जा सकती है सीबीआई

गुरुवार को अपराहन जब आनंद गिरि को हरिद्वार से लेकर सीबीआई वापस प्रयागराज एयरपोर्ट पहुंची। तो बाहर निकलते समय आनंद गिरि आत्मविश्वास से लबरेज दिखे। मीडिया के सवाल पर कि सीबीआई जांच कैसी चल रही है आनंद गिरि ने कहा बजरंग बली की जय... सब बढ़िया होगा। आनंद गिरि की बॉडी लैंग्वेज को देखकर विशेषज्ञ यही कह रहे हैं कि अभी तक सीबीआई की जांच में आनंद गिरि के खिलाफ कुछ खास सबूत नहीं मिले हैं।

आनंद गिरि की बॉडी लैंग्वेज बता रही है कि उनके खिलाफ कुछ ठोस सुबूत नहीं है। फिलहाल सीबीआई शुक्रवार को भी आनंद गिरि आद्या प्रसाद तिवारी और संदीप तिवारी से गहन पूछताछ कर रही है। तीनों आरोपियों से अलग-अलग पूछताछ हो रही है। माना जा रहा है कि आनंद गिरी को लेकर सीबीआई श्री बाघमबारी गद्दी वाले हनुमान मंदिर भी जा सकती है।

सुसाइड नोट में आनंद गिरि को ठहराया है मौत का जिम्मेदार

नरेंद्र गिरी ने अपने सुसाइड नोट में आनंद गिरि, आद्या प्रसाद तिवारी व संदीप तिवारी को अपनी मौत के लिए जिम्मेदार ठहराया है। नरेंद्र गिरि ने अपने सुसाइड नोट में लिखा है कि यह तीनों मुझे परेशान करते थे और एक लड़की के साथ अश्लील सीडी वायरल करने की धमकी देते थे। इसी आरोप में नरेंद्र गिरी आद्या प्रसाद तिवारी व संदीप तिवारी को पुलिस ने गिरफ्तार किया था।

यह हाईप्रोफाइल मामला अब सीबीआई के पास है। सीबीआई ने तीनों आरोपियों को 28 सितंबर से लेकर 4 अक्टूबर तक रिमांड पर लिया। तीनों से पूछताछ हो रही है। इसी कड़ी में सीबीआई ने आनंद गिरी को लेकर हरिद्वार में उनके आश्रम पर जांच पड़ताल की है। जांच पड़ताल में उनका लैपटॉप मोबाइल भी जब्त किया गया है। हालांकि हरिद्वार स्थित आनंद गिरि के आश्रम के सीसीटीवी कैमरे का डीवीआर गायब मिला। कहा जा रहा है कि डीवीआर चोरी हो गया है, लेकिन सीबीआई इस मामले की जांच कर रही है

खबरें और भी हैं...