• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Prayagraj
  • Notice To Five BDOs Who Were Negligent In Vaccination, Explanation Sought By Chief Development Officer Of Prayagraj, Adverse Entry To Two Secretaries

टीकाकरण में लापरवाही करने वाले पांच BDO को नोटिस:प्रयागराज के मुख्य विकास अधिकारी की ओर से मांगा गया स्पष्टीकरण, दो सचिव को प्रतिकूल प्रविष्टि

प्रयागराज20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कोविड टीकाकरण कम होने पर प्रयागराज के पांच BDO को कारण बताओ नोटिस। - Dainik Bhaskar
कोविड टीकाकरण कम होने पर प्रयागराज के पांच BDO को कारण बताओ नोटिस।

कोविड टीकाकरण में लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों व कर्मचारियों पर इन दिनों नकेल कसा जा रहा है। शुक्रवार की देर शाम प्रयागराज के मुख्य विकास अधिकारी शिपू गिरि ने जिले के पांच BDO (खंड विकास अधिकारी) को नोटिस देकर स्पष्टीकरण मांगा है। इनसे तत्काल जवाब मांगा गया है कि उन्होंने कोविड-19 टीकाकरण में लापरवाही क्यों की है? इसी तरह दो ग्राम सचिव को भी नोटिस दी गई है।

2900 के सापेक्ष महज 500 लोगों का हुआ टीकाकरण

सीडीओ ने चाका की खंड विकास अधिकारी डॉ. सपना अवस्थी को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। सीडीओ ने कहा कि चाका में शुक्रवार को साढ़े तीन बजे तक हुए टीकाकरण की समीक्षा की गई जिसमें 2900 के सापेक्ष महज 500 लाभार्थियों का टीकाकरण किया गया था, यह कुल लक्ष्य के महज करीब 17 फीसद है। इसमें उदासीनता बरती गई है। बहादुरपुर ब्लाक के बीडीओ मनोज कुमार, करछना के बीडीओ राम विलास राय व सहसों की बीडीओ बबिता सिंह से भी सीडीओ की ओर से जवाब मांगा गया है।

मऊआइमा के बीडीओ को भी नोटिस

इसी तरह मऊआइमा के बीडीओ सुरेंद्र नाथ सिंह को भी कारण बताओ नोटिस दी गई है। इस विकासखंड में 2200 के सापेक्ष महज 400 टीकाकरण किया जाना पाया गया। इनसे भी एक दिन के अंदर जवाब तलब किया गया है। इसी क्रम में ग्राम विकास अधिकारी कौंधियारा नील कृष्ण प्रजापति, कौंधियारा के ग्राम पंचायत अधिकारी अवनीश कुमार पटेल द्वारा टीकाकरण में रूचि न लेने के कारण नोटिस दी गई है। कौंधियारा के करमा में तैनात सफाईकर्मी शिवकुमारी को भी प्रतिकूल प्रविष्टि दी गई है। इन्हें जिला पंचायत राज अधिकारी आलोक कुमार सिन्हा द्वारा जवाब मांगा गया है।

खबरें और भी हैं...