• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Prayagraj
  • Offline Classes Will Run In Allahabad University From October 1; Classes Closed Due To Corona Infection, Studies Being Conducted On Online Mode, Students Will Have To Follow Covid Guide Line

इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में 1अक्टूबर से चलेंगी आफलाइन क्लास:कोरोना संक्रमण की वजह से बंद चल रही कक्षाएं, ऑनलाइन मोड पर कराई जा रही पढ़ाई, कोविड गाइड लाइन का करना होगा पालन

प्रयागराज2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सबसे पहले पीजी द्वितीय व चतुर्थ सेमेस्टर के स्टूडेंट्स का आफलाइन मोड पर क्लास शुरू होगा। उसके बाद जैसे-जैसे हालात सुधरेंगे अन्य क्लास भी शुरू की जाएगी। - Dainik Bhaskar
सबसे पहले पीजी द्वितीय व चतुर्थ सेमेस्टर के स्टूडेंट्स का आफलाइन मोड पर क्लास शुरू होगा। उसके बाद जैसे-जैसे हालात सुधरेंगे अन्य क्लास भी शुरू की जाएगी।

कोरोना संक्रमण की वजह से पिछले 10 महीने से भी ज्यादा समय से इलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय में आफलाइन मोड पर कक्षाएं नहीं चल रही हैं। स्टूडेंट्स के लिए केवल आनलाइन मोड पर कक्षाएं संचालित की जा रही हैं, पर इलाहाबाद विश्वविद्यालय प्रशासन की ओर से निर्णय लिया गया है कि एक अक्टूबर से आफलाइन क्लास का संचालन शुरू किया जाएगा।

सबसे पहले पीजी द्वितीय व चतुर्थ सेमेस्टर के स्टूडेंट्स का आफलाइन मोड पर क्लास शुरू होगा। उसके बाद जैसे-जैसे हालात सुधरेंगे अन्य क्लास भी शुरू की जाएगी।

कोरोना काल में भी चलीं हैं ऑनलाइन कक्षाएं

इलाहाबाद विश्वविद्यालय के सहायक जनसूचना अधिकारी डॉ. चितरंजन कुमार सिंह ने बताया कि बीते कुछ महीनों में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए इलाहाबाद विश्वविद्यालय कैंपस को बंद किया गया था। कोरोना की दूसरी लहर के कारण पूरे देश में एक बड़ा संकट उत्पन्न हो गया था। इस महामारी का गहरा असर इलाहाबाद विश्वविद्यालय के छात्रों,शिक्षकों, और गैर शैक्षणिक कर्मचारियों पर पड़ा था।

इस महामारी में असमय इलाहाबाद विश्वविद्यालय और महाविद्यालयों कुछ शिक्षकों की मौत हो गई। हालांकि उस दौरान भी इलाहाबाद विश्वविद्यालय और महाविद्यालयों में ऑनलाइन कक्षाएं चलती रही ताकि छात्रों का पठन पाठन निर्बाध गति से चलता रहे।

पीजी व शोध छात्रों को जल्द आवंटित किया जाएगा हॉस्टल श्री सिंह ने बताया कि इधर कुछ दिनों से कोरोना के बढ़ते मामलों में काफी कमी आयी है। साथ ही इलाहाबाद विश्वविद्यालय के अधिकांश शिक्षकों और गैर शैक्षणिक कर्मचारियों ने कोविड से बचने के लिए टीकाकरण भी करवा लिया है। साथ ही कई संस्थाएं धीरे धीरे ऑफलाइन तरीके से पठन पाठन की ओर लौट चुकी हैं।

इन सारी चीजों के मद्देनजर इलाहाबाद विश्वविद्यालय प्रशासन ने तय किया है कि एक अक्टूबर से विश्वविद्यालय में परास्नातक द्वितीय और चैथे सेमेस्टर की कक्षाएं ऑफलाइन विधि से संचालित होंगी।

उन्होंने बताया कि परास्नातक और शोध छात्रों के लिए जल्द ही छात्रावास आवंटित कियाजाएगा। छात्र कल्याण अधिष्ठाता कार्यालय द्वारा हर छात्रावास में कोरोना से रोकथाम के व्यापक इंतजाम किए जाएंगे।

खबरें और भी हैं...