शर्मा गुट की अगुवाई में बंद हुई थी पुरानी पेंशन:प्रयागराज में बोले शिक्षक एमएलसी उमेश द्विवेदी, भाजपा की एकतरफा जीत तय

प्रयागराज10 दिन पहले

इलाहाबाद झांसी शिक्षक चुनाव के प्रभारी एवं शिक्षक एमएलसी उमेश द्विवेदी ने बुधवार को सिविल लाइंस स्थित एक होटल में पत्रकारों से बातचीत की। कहा कि इलाहाबाद झांसी शिक्षक एमएलसी चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी बाबूलाल तिवारी की एक तरफा जीत होने जा रही है। उन्होंने कहा कि वित्तविहीन शिक्षकों का एवं प्रयागराज जिले के सभी विद्यालय के प्रबंधक, प्रधानाचार्य और शिक्षकों का भरपूर समर्थन भारतीय जनता पार्टी को मिल रहा है। उन्होंने कहा कि पूर्व के शिक्षक एमएलसी सुरेश त्रिपाठी ने कभी भी शिक्षा व्यवस्था पर ध्यान नहीं दिया गया। उसी का परिणाम है कि आज शर्मा गुट हाशिए पर आ गया है और इनके गुट से एमएलसी हेम सिंह पुंडीर, जगवीर किशोर जैन एवं सुभाष शर्मा आदि ने दूरी बना ली।

उमेश द्विवेदी ने कहा कि पुरानी पेंशन सपा सरकार ने बंद किया जिसमें शर्मा गुट के अगुआ बतौर चेयरमैन रहे। इतना ही नहीं वित्तविहीन व्यवस्था शर्मा गुट की ही देन है।

“भाजपा ने दिया वित्तविहीन शिक्षकों को वोट देने का अधिकारी”

उमेश द्विवेदी ने कहा, वित्तविहीन शिक्षकों का वोट कटवाने का पूरा प्रयास इन्हीं के द्वारा किया गया। भारतीय जनता पार्टी ने वित्तविहीन शिक्षकों को शिक्षक एमएलसी चुनाव में मतदाता बनाने का अधिकार दिया। भाजपा की सरकार में बिना किसी बिचौलिए के 32,000 माध्यमिक शिक्षकों की, 11200 प्रधानाचार्य की और 130000 प्राथमिक शिक्षकों की भर्ती की गई है। सवालों का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि पुरानी पेंशन व्यवस्था अभी किसी भी राज्य में लागू नहीं की गई है और यूपी में हमारी सरकार पुरानी पेंशन को लागू करने का विचार कर रही है और कहा कि यह चुनाव भारतीय जनता पार्टी शिक्षा और शिक्षकों के उज्जवल भविष्य के लिए लड़ रही है।

खबरें और भी हैं...