• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Prayagraj
  • PCS Pre 2021 Exam Result Canceled: The Allahabad High Court Ordered To Issue The Results Afresh, Giving The Benefit Of 5 Percent Reservation To The Ex servicemen.

PCS प्री-2021 परीक्षा का परिणाम रद:हाईकोर्ट ने पूर्व सैनिकों को 5 प्रतिशत आरक्षण का लाभ देते हुए परिणाम जारी करने का दिया आदेश

प्रयागराज4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने पीसीएस प्रारंभिक परीक्षा-2021 का परिणाम रद कर दिया है। यह परिणाम उस सीमा तक रद किया गया है, जहां तक पूर्व सैनिकों को 5% आरक्षण का लाभ दिया जा सके। हाईकोर्ट ने पूर्व सैनिकों को आरक्षण का लाभ देते हुए नए सिरे से परिणाम जारी करने का आदेश दिया है।

जस्टिस संगीता चंद्र ने सतीश चंद्र शुक्ल और अन्य की याचिका पर सुनवाई करते हुए मंगलवार को परीक्षा परिणाम रद करने का आदेश दिया।
जस्टिस संगीता चंद्र ने सतीश चंद्र शुक्ल और अन्य की याचिका पर सुनवाई करते हुए मंगलवार को परीक्षा परिणाम रद करने का आदेश दिया।

एक माह में करानी होगी सैनिकों की मुख्य परीक्षा
इलाहाबाद हाईकोर्ट ने अपने आदेश में यह भी कहा है कि पूर्व सैनिकों को 5% आरक्षण का लाभ देते हुए नए सिरे से परिणाम जारी किए जाएं। जस्टिस संगीता चंद्र ने फैसले में कहा, "इसके साथ ही एक माह के भीतर ही उन्हें मुख्य परीक्षा के लिए प्रवेश पत्र भी जारी कर दिए जाएं।"

याची का कहना था कि कारगिल युद्ध के बाद राज्य सरकार ने वर्ष 2019 में पूर्व सैनिकों को दिए जाने वाले आरक्षण में बदलाव कर दिया है। अब 5% आरक्षण देने की व्यवस्था है। उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग ने यूपी सरकार के इस आदेश की अवहेलना करते हुए सैनिकों को यूपी पीसीएस-2021 की प्रारंभिक परीक्षा में ग्रुप ए और बी को हटा दिया गया और 5% आरक्षण का लाभ नहीं दिया।

इसको लेकर इलाहाबाद हाई कोर्ट ने राज्य सरकार जवाब दाखिल करने को कहा था। राज्य सरकार ने अपने जवाब में कहा था कि इस मुद्दे पर विचार किया जा रहा है। इस दौरान 5 फरवरी 2021 का विज्ञापन जारी किया गया।

पीसीएस-2021 की प्रारंभिक परीक्षा 24 अक्टूबर 2021 को हुई थी। इस दौरान प्रयागराज के एक सेंटर से परीक्षा देकर बाहर निकलते अभ्यर्थी।
पीसीएस-2021 की प्रारंभिक परीक्षा 24 अक्टूबर 2021 को हुई थी। इस दौरान प्रयागराज के एक सेंटर से परीक्षा देकर बाहर निकलते अभ्यर्थी।

आरक्षण विवाद में ही बदला था पीसीएस प्री-2018 का परिणाम
लोक सेवा आयोग की सम्मिलित राज्य/अवर अधीनस्थ सेवा-2021 में पूर्व सैनिकों को आरक्षण न देने के कारण प्रारंभिक परीक्षा का परिणाम निरस्त करना पड़ा। इससे प्रतियोगी छात्रों को झटका लगा है। अब नए आरक्षण के बाद अनिश्चितता है। कौन परिणाम से बाहर होगा, यह चिंता सताने लगी है।

इससे पहले 2018 में भी महिला आरक्षण प्रारंभिक परीक्षा का परिणाम संशोधित करना पड़ा था। हाईकोर्ट के आदेश पर आयोग ने 5 अक्टूबर 2019 को पीसीएस 2018 की प्रारंभिक परीक्षा का परिणाम बदला था। इसके बाद 160 महिला अभ्यर्थियों को क्षैतिज आरक्षण का लाभ देते हुए मुख्य परीक्षा के लिए क्वालीफाई किया गया था।

3.21 लाख छात्रों ने दी थी प्रारंभिक परीक्षा
24 अक्टूबर 2021 को हुई पीसीएस-2021 की प्रारंभिक परीक्षा में कुल 3.21 लाख अभ्यर्थियों ने भाग लिया था। इस भर्ती के लिए 6 लाख 91 हजार 173 अभ्यर्थियों ने पंजीकरण कराया था। मुख्य परीक्षा में 7,984 अभ्यर्थियों को सफल घोषित किया गया है। 623 पदों के सापेक्ष 1,285 अभ्यर्थियों को साक्षात्कार के लिए सफल घोषित किया गया था।

21 जुलाई से इन सभी का साक्षात्कार चल रहा है। पांच अगस्त तक यह साक्षात्कार चलेगा। कोर्ट के इस हालिया आदेश के बाद अभ्यर्थियों में खलबली है। क्या होगा, कैसे होगा, इसको लेकर सभी असमंजस में हैं।

खबरें और भी हैं...