वैक्सीन की 350 डोज चोरी करने वाले 3 चोर गिरफ्तार:प्रयागराज के हंडिया व उतरांव थाने में ACMO ने 20 अगस्त को रिपोर्ट दर्ज कराई थी, पुलिस ने आज पकड़ा

प्रयागराज5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
20 अगस्त को गंगा पार के सैदाबाद और धनुपुर में 35 वायल चोरी हो गई थी। - Dainik Bhaskar
20 अगस्त को गंगा पार के सैदाबाद और धनुपुर में 35 वायल चोरी हो गई थी।

प्रयागराज के हंडिया और उतरांव थाना क्षेत्र से 20 अगस्त को कोरोना वैक्सीन की 35 वायल (350 डोज) चोरी करने के मामले में पुलिस ने रविवार को 3 लोगों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किए गए लोगों में 2 हडिया थाना क्षेत्र और 1 उतरांव थाना क्षेत्र का रहने वाला है। पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है।

सैदाबाद और धनुपुर से 35 वायरल हुए थे चोरी

20 अगस्त को गंगा पार के सैदाबाद और धनुपुर में 35 वायल चोरी हो गई थी। इसकी सूचना मिलते ही अफरा तफरी मच गई थी। काफी पता लगाने के बाद भी चोरी गई वायल का पता नहीं चल पाया था। दोनों केंद्रों के चिकित्सा अधिकारियों ने सीएमओ डॉ. नानक सरन व जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. तीरथ लाल को घटना की जानकारी दी थी। एसएसपी को भी इस बारे में अवगत करा दिया गया था। इसके बाद एसीएमओ डॉ. तीरथ लाल ने हंडिया व उतरांव थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस मामले की छानबीन कर रही थी।

आज हुई 3 युवकों की गिरफ्तारी

आज बलीपुर गांव के रहने वाले दीपक पटेल को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। दीपक पटेल पर आरोप है कि उसने उतरांव के एक वैक्सीनेशन सेंटर से 11 वायल चुराई थी। इसके बाद जिला प्रतिरक्षण अधिकारी व एसीएमओ डॉ. तीरथ लाल ने उतरांव थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस इस मामले की छानबीन कर रही थी। रविवार दोपहर 12:00 बजे के आसपास पुलिस ने बलीपुर गांव में दबिश देकर दीपक पटेल को गिरफ्तार किया।

चोरी के 11 वायल बरामद

पुलिस ने दीपक पटेल द्वारा चुराए गए कोविड-19 के 11 वायल भी बरामद किए हैं। हालांकि एसीएमओ डॉ. तीरथ लाल ने बताया कि अब यह वैक्सीन प्रयोग में नहीं लाई जा सकती। यह बेकार हो गई है। इसके अलावा दो अन्य युवकों को हंडिया से पकड़ा गया है। पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है। उनके पास बाकी के 24 वायल होने की आशंका जाहिर की जा रही है।

वैक्सीन मुझे नहीं लगी तो किसी को नहीं लगने दूंगा

उतरांव इंस्पेक्टर प्रवीण कुमार सिंह ने दैनिक भास्कर को बताया कि दीपक पटेल से जब पूछताछ की गई कि वायल चुराने के पीछे उसका क्या मकसद था तो उसने बताया कि सेंटर पर काफी भीड़ थी। जो दबंग और प्रभावशाली लोग थे उनको पहले वैक्सीन की डोज लगाई जा रही थी। काफी देर परेशान होने के बाद जब मुझे वैक्सीन नहीं लग पाई तो मैंने सोचा जब मुझे नहीं लगी तो मैं किसी को नहीं लगने दूंगा।

गुस्से में गुस्से में उसने 11 वायल उठाकर अपनी जेब में डाल लिया और चुपचाप निकल गया। इंस्पेक्टर ने बताया कि दीपक से पूछताछ हो रही है। उसके खिलाफ एसीएमओ द्वारा दी गई तहरीर के आधार पर महामारी एक्ट व अन्य धाराओं में रिपोर्ट लिखी जा रही है।

खबरें और भी हैं...