• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Prayagraj
  • Prayagraj Atala Violence Updates : Wife Parveen Fatima Has Filed A Petition In HC, Alleging Police Harassment OfHearing Of Javed's House Demolition Case Tomorrow, Daughter wife

जावेद का घर ढहाने के मामले की सुनवाई कल:पत्नी परवीन फातिमा ने HC में दाखिल की है याचिका, रिमांड पर जावेद पंप, पूछताछ जारी

प्रयागराज5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
करेली स्थित जावेद पंप का घर पीडीए ने बुलडोजर लगाकर ध्वस्त कर दिया था। - Dainik Bhaskar
करेली स्थित जावेद पंप का घर पीडीए ने बुलडोजर लगाकर ध्वस्त कर दिया था।

प्रयागराज के अटाला में 10 जून को जुमे की नमाज के बाद हुए बवाल के मुख्य आरोपी जावेद मोहम्मद पंप का मकान ढहाने के मामले में सोमवार को सुनवाई होगी। जस्टिस सुनीता अग्रवाल और जस्टिस विक्रम डी चौहान की खंडपीठ इस चर्चित केस की सुनवाई करेगी। उधर, पुलिस ने जावेद पंप को रिमांड पर लेकर पूछताछ कर रही है।

याचिका जावेद की पत्नी परवीन फातिमा ने दाखिल की है। याचिका दाखिल कर कहा गया है कि पुलिस उसे व उसकी बेटी को भी 11 जून को उठा ले गई थी। 12 जून को घर ढहाने से पहले कोई नोटिस नहीं दी गई थी।

मकान अवैध तरीके से तोड़ने की शिकायत

इलाहाबाद हाईकोर्ट में दाखिल याचिका में परवीन फातिमा ने अवैध तरीके से मकान तोड़ने की शिकायत की है। साथ ही दोबारा मकान बनने तक रहने के लिए सरकारी आवास मुहैया कराने की मांग की है। परवीन फातिमा ने लिखा है कि जिस मकान को बुल्डोजर से ध्वस्त कर दिया गया, वह उसके नाम पर है, न कि उसके शौहर जावेद के नाम है। यह मकान याची को उसके पिता से उपहार में मिला था। नगर निगम व राजस्व दस्तावेजों में याची का ही नाम दर्ज है।

जावेद की अखिलेश यादव व समाजवादी पार्टी से नजदीकियां सामने आई थीं।
जावेद की अखिलेश यादव व समाजवादी पार्टी से नजदीकियां सामने आई थीं।

नोटिस की परिजनों को नहीं दी गई जानकारी

अटाला हिंसा के बाद उसे और उसकी बेटी सुमैया फातिमा को पुलिस महिला थाने उठा ले गई। पुलिस गई और नोटिस चस्पा कर चली आई। उन्हें और उनके परिवार के सदस्यों को इसकी जानकारी भी नहीं हुई। 12 जून को मकान ध्वस्त कर दिया गया। इन सब घटनाओं की सही और प्रापर तरीके से उन्हें और उनके परिवार को जानकारी तक नहीं हो सकी। नोटिस भी उसके पति के नाम दिया गया और याची को अपील दाखिल करने या पक्ष रखने का कोई मौका दिए बगैर मकान ध्वस्त कर दिया गया।

जावेद की छोटी बेटी सुमैया ने पुलिस पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया था।
जावेद की छोटी बेटी सुमैया ने पुलिस पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया था।

पति को अवैध रूप से गिरफ्तार करने का अरोप

याचिका में कहा गया है कि 10 जून की पत्थरबाजी व तोड़फोड़ की घटना के बाद उसी रात पुलिस ने उसके शौहर जावेद मोहम्मद पंप को थाने बुलाया और अवैध रूप से गिरफ्तार कर लिया। यही नहीं, देर रात महिला थाने की पुलिस याची व उसकी बेटी को भी थाने ले गई। तीन दिन तक दोनों को अवैध रूप से हिरासत में रखा गया। याचिका में कहा गया है कि ध्वस्तीकरण की कार्रवाई करने से पूर्व न तो याची को कोई नोटिस दिया गया और न कोई जानकारी। रविवार के दिन बड़ी संख्या में पुलिस और पीडीए के अधिकारी व कर्मचारी उसके घर पर दो बुलडोजर लेकर पहुंचे और पूरा मकान ढहा दिया। याची को अपील दाखिल करने के लिए जरूरी 30 दिन की मोहलत भी नहीं दी गई।

याचिका के साथ नहीं दिया गया है घर का नक्शा

कहा गया है कि पुलिस की कार्रवाई अवैधानिक और नैसर्गिक न्याय के विपरीत है तथा अर्बन प्लानिंग एंड डेवलपमेंट एक्ट के प्रावधानों का पालन नहीं किया गया। याचिका में कहा गया है कि याची के पास अब रहने के लिए कोई घर नहीं है। वह परिवार के साथ रिश्तेदारों के यहां रहने को मजबूर है। याचिका में न्यायालय से ग्रीष्मावकाश के दौरान ही इस मामले में सुनवाई का अनुरोध किया गया है। हालांकि, परवीन फातिमा की ओर से दाखिल याचिका में मकान का कोई नक्शा दाखिल नहीं किया गया है। जिसकी स्वीकृति तत्कालीन इलाहाबाद विकास प्राधिकरण (अब प्रयागराज विकास प्राधिकरण) की ओर से होनी चाहिए। फिलहाल कोर्ट ने मामले कि सुनवाई के लिए सोमवार की तारीख तय की है।

देर रात तक चलती रही पूछताछ

जावंद पंप को पुलिस ने दो दिन की रिमांड पर लिया है। शनिवार को क्राइम ब्रांच की टीम उसे लेकर कार्यालय पहुंची जहां देर रात तक उससे कड़ी पूछताछ करती रही। न्यायालय पर आपत्तिजनक टिप्पणी और अवैध असलहे के बारे में पुलिस ने सवाल किया है। कोर्ट ने एक दिन पहले ही जावेद की पुलिस कस्टडी रिमांड मंजूर की थी। उससे डिलीट किए गए वाट्सएप चैट के बारे में भी पूछताछ की गई। पुलिस आज भी जावेद से पूछताछ की पुख्ता सुबूत जुटाने की कोशिश करेगी।

खबरें और भी हैं...