आनंद गिरि को फिर रिमांड पर लेगी CBI:महंत की मौत का एक माह...न वो रहस्यमय CD मिली न महिला का पता चला

प्रयागराज8 महीने पहले
नरेंद्र गिरि ने अपने कथित सुसाइड नोट में आनंद गिरि, आद्या और संदीप तिवारी को अपनी मौत का जिम्मेदार ठहराया था।

अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष व बाघम्बरी गद्दी के महंत नरेंद्र गिरि की मौत से सीबीआई अभी तक पर्दा नहीं उठा सकी है। अभी तक की जांच और आरोपियों से की गई पूछताछ में कोई अहम सुराग सीबीआई को हाथ नहीं लगे हैं। न ही उस रहस्यमय CD का पता चला है न ही उस महिला का। सीजेएम कोर्ट ने आनंद गिरि के नार्को टेस्ट की अनुमति देने से भी इंकार कर दिया है। ऐसे में महंत की मौत से जुड़े अनसुलझे सवालों को सुलझाने के लिए आनंद गिरी, आद्या तिवारी व संदीप तिवारी को फिर से रिमांड पर लेने की तैयारी में है।

आपको बता दें कि 20 सितंबर को महंत नरेंद्र गिरि बाघम्बरी मठ के अपने कमरे में मृत मिले थे। आज उनकी मौत को एक महीना हो गया है।

कोर्ट ने नार्को टेस्ट की नहीं दी थी अनुमति
सीजेएम कोर्ट के मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट हरेंद्र नाथ ने सीबीआई की अर्जी पर अभियोजन अधिकारी और आरोपियों के अधिवक्ता विजय कुमार द्विवेदी तथा सुधीर कुमार श्रीवास्तव के तर्को को सुनने के बाद तीनों आरोपियों आनंद गिरी, आद्या तिवारी व संदीप तिवारी की असहमति मिलने के बाद नार्को टेस्ट कराने की सीबीआई की अर्जी खारिज कर दी थी।

कथित सुसाइड नोट में महंत ने एक सीडी का जिक्र किया था।
कथित सुसाइड नोट में महंत ने एक सीडी का जिक्र किया था।

पहले भी 7 दिन की रिमांड पर हो चुकी है पूछताछ

जेल में बंद आनंद गिरी, आद्या तिवारी व संदीप तिवारी से राज उगलवाने के लिए सीबीआई ने सीजेएम कोर्ट में अर्जी दाखिल की थी। कोर्ट की ओर से 27 सितंबर से सात दिनों के लिए रिमांड दी गई थी। इस दौरान सीबीआई की टीम ने तीनों आरोपियों से कई दफा सवाल-जवाब किया था। आनंद गिरी को हरिद्वार भी लेकर गई थी। पर सीबीआई को पुख्ता प्रमाण नहीं मिले।

CBI के सामने 5 सवाल

  1. वो कथित वीडियो कहां है जिसका सुसाइड नोट में जिक्र था?
  2. सीडी में जिस महिला के साथ कथित रूप से नरेंद्र गिरि के होने की बात की जा रही है वो लड़की कौन है और कहां हैं?
  3. अगर ये आत्महत्या है तो फिर आनंद, आद्या और संदीप तिवारी के खिलाफ क्या सबूत हैं?
  4. जिन लोगों ने आनंद गिरि और नरेंद्र गिरि के बीच मध्यस्थता कराई थी उनकी भूमिका क्या थी?
  5. महंत नरेंद्र गिरि ने प्रापर्टी डीलरों को 25-25 लाख रुपए क्यों दिए थे?
खबरें और भी हैं...