• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Prayagraj
  • Prayagraj Weather Updates : Rainy Day In Schools,It Has Been Raining Continuously For 24 Hours In Sangam City , The Weather Will Remain Like This Till September 30, There Is A Possibility Of More Heavy Rain

प्रयागराज में भारी बारिश से त्राहिमाम:मकान ढहने से पांच लोगों की मौत, कई इलाकों में सड़कें धंसी, पेड़ गिरे, घरों में घुसा पानी, जन-जीवन अस्त-व्यस्त

प्रयागराज2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रयागराज में मकान ढहने से एक व्यक्ति की मलबे में दबने से मौत हो गई। - Dainik Bhaskar
प्रयागराज में मकान ढहने से एक व्यक्ति की मलबे में दबने से मौत हो गई।

संगम नगरी में तेज हवाओं के साथ पिछले 24 घंटों से लगातार हुई मूसलाधार बारिश से कोहराम मच गया। विभिन्न क्षेत्रों में मकान ढहने से पांच लोगों की मौत हो गई, जबकि कई अन्य घायल हो गए हैं। भारी बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। कई इलाकों में लोगों के घरों में पानी घुस गया है। सड़कों पर पेड़ गिरने से आवागमन बाधित रहा। कई क्षेत्रों में घंटों बिजली गुल रही। बारिश से सड़कें धंस गई हैं।

तेज बारिश से सड़कों पर पानी जमा रहा।
तेज बारिश से सड़कों पर पानी जमा रहा।

प्रयागराज के मुट्ठीगंज में दो मंजिला मकान ढहा

लगातार हो रही बारिश से प्रयागराज के मुट्ठीगंज क्षेत्र में दो मंजिला मकान ढह गया। मकान के मलबे में दबकर महिला की मौत हो गई, जबकि उसका बेटा बुरी तरह से जख्मी हो गया है। कोरांव में भी एक मकान ढह गया है। इसमें दबने से महिला की मौत हो गई है। मऊआइमा में एक व्यक्ति की मौत की सूचना है। भारी बरसात के दौरान प्रयागराज के ही शंकरगढ़ में कचारी गांव में दो मंजिला पक्का मकान ढह गया। इस घटना में फार्म हाउस में चौकीदारी करने वाले दो लोगों की जान चली गई।

तेज बारिश के बाद शहर की कई सड़कें जलमग्न हो गईं।
तेज बारिश के बाद शहर की कई सड़कें जलमग्न हो गईं।

कभी धीमी तो कभी तेज। लगातार बारिश होने से जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है। कक्षा 1 से लेकर 8 तक के सभी स्कूलों में अवकाश घोषित कर दिया गया है। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार 30 सितंबर तक ऐसे ही मौसम रहेगा। पूर्वी उत्तर प्रदेश में तेज हवाओं के साथ बारिश की आशंका बनी रहेगी।

दुकान के बाहर जमा पानी।
दुकान के बाहर जमा पानी।

40 किलोमीटर प्रति घंटे तक चलीं हवाएं

प्रयागराज में मंगलवार की रात से बारिश शुरू हुई। मंगलवार की रात हल्की बूंदाबांदी के बाद बुधवार को दिन में तेज बारिश हुई। इसके बाद लगातार 22 किलोमीटर प्रति घंटे से लेकर 40 किलोमीटर तक हवा का तेज झोंका आया। तेज हवाओं के बीच में बारिश भी होती रही।

बारिश के बाद जगह जगह पेड़ गिर गए हैं।
बारिश के बाद जगह जगह पेड़ गिर गए हैं।

ऐसे ही बारिश के बीच बीतेगा पूरा सितंबर

इलाहाबाद विश्वविद्यालय के भूगोल विभाग के अध्यक्ष प्रो.एआर सिद्धकी ने बताया अभी पूर्वी उत्तर प्रदेश में ऐसे ही बारिश के आसार हैं। मौसम का जो पूर्वानुमान है उसके अनुसार 30 सितंबर तक बीच-बीच में बारिश होती रहेगी। 22 किलोमीटर प्रति घंटे से लेकर 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चलती रहेंगी।

चांदपुर सलोरी के एक में बारिश के बाद सड़क पर पानी भर गया।
चांदपुर सलोरी के एक में बारिश के बाद सड़क पर पानी भर गया।

लगातार बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त

इस दौरान तेज बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त रहा। शहर के निचले मोहल्लों में पानी भर गया जिन सड़कों के किनारे काम चल रहा था वहां वाटर लॉगिंग हो गई और काम बंद करना पड़ा। मौसम में आद्रता 90 फीसद के होने के कारण उमसभरी गर्मी से लोग परेशान रहे। हालांकि 2 दिन से लगातार हो रही बारिश से तापमान में अचानक 4 से 5 डिग्री तक की गिरावट दर्ज की गई है। दो दिन पूर्व अधिकतम तापमान 34 डिग्री तक दर्ज किया गया था। बुधवार को अधिकतम तापमान 26 डिग्री पर आकर रुक गया है। मौसम विभाग के अनुसार प्रति घंटे 3 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई।

छोटा बघाड़ा के एक मोहल्ले में जलभराव।
छोटा बघाड़ा के एक मोहल्ले में जलभराव।

कई क्षेत्रों में बाढ़ जैसे हालात

बारिश ने प्रयागराज के कई क्षेत्रों में अघोषित बाढ़ जैसे हालात उत्पन्न कर दिए हैं। जिससे प्रभावित लाखों लोगों की दिनचर्या अस्त-व्यस्त हो गई है। लोग अपने घरों में कैद होकर रहने के लिए मजबूर हैं। निचले क्षेत्रों के कई मकानों में पानी भर गया है। बारिश के मौसम में उत्पन्न होने वाली इस लाइलाज समस्या से नगर निगम व जलकल विभाग के अधिकारी अनजान नहीं हैं, परंतु दो दशक से ज्यादा समय बीत जाने के बावजूद जल निकासी की समस्या का मुकम्मल इंतजाम अभी तक नहीं हो पाया है। सरकारी व्यवस्था पूरी तरह नाकाम रही है। उसी का दुष्परिणाम यह है कि बीते मंगलवार की रात से शुरू हुई बरसात के चलते प्रयागराज के छोटा बघाड़ा, अल्लापुर , कीडगंज जैसे क्षेत्रों में पानी भर गया है। नगर निगम तथा जलकल विभाग के अधिकारी एक-दूसरे को जिम्मेदार ठहराते रहते हैं। सीवर लाइन ओवरफ्लो होने के कारण बारिश का पानी सीवर लाइन के जरिए दर्जनों घरों में पहुंच गया है।

बारिश के बीच गुजरता एक परिवार।
बारिश के बीच गुजरता एक परिवार।

देर रात तक ऐसे ही होगी बारिश, एडवाइजरी जारी

मौसम विभाग ने एडवाइजरी जारी कर दी है। अगर आप बाहर जाने का प्लान बना रहे हैं और बहुत जरूरी ना हो तो कृपया आज घर से बाहर ना निकले। क्योंकि मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार आज दिनभर तेज बारिश के आसार हैं। सुबह से लेकर देर रात तक मौसम ऐसे ही बना रहेगा और तेज बारिश होती रहेगी। आसमान में बिजली भी कड़कने की आशंका है। ऐसे में बारिश से बचने के लिए पेड़ों के नीचे शरण मत लें और जरूरी होने पर ही घर से बाहर निकलें।

खबरें और भी हैं...