• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Prayagraj
  • Race Continues: Runner Kajal Also Met Raja Bhaiya, Prayagraj's 10 year old Kajal Running To Meet The Chief Minister, Lucknow Did Not Stop In The Scorching Sun

दौड़ जारी : राजा भैया से भी मिली धावक काजल:प्रयागराज की 10 वर्षीय काजल दौड़ते हुए मुख्यमंत्री से मिलने जा रही लखनऊ, कड़ी धूप में नहीं रूके कदम

प्रयागराज6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
राजा भैया से मिलकर लखनऊ की ओर रवाना हुई काजल। - Dainik Bhaskar
राजा भैया से मिलकर लखनऊ की ओर रवाना हुई काजल।

प्रयागराज के मांडा की रहने वाली 10 वर्षीय धावक काजल के कदम लगातार राजधानी लखनऊ की ओर बढ़ रहे हैं। वह दौड़ते हुए प्रयागराज से लखनऊ के लिए रवाना हुई है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिलने के लिए वह लखनऊ उनके आवास पर जा रही है। सोमवार की रात काजल कुंडा पहुंची तो वहां राजा भईया से भी मुलाकात की। राजा भईया ने उसका हौसला बढ़ाया। उनके अतिथि गृह में रात्रि विश्राम के बाद वह मंगलवार की सुबह दौड़ लगाते हुए लखनऊ की तरफ बढ़ी है। दोपहर 12 बजे तक वह ऊंचाहार में पहुंची चुकी थी।

यह वही काजल है तां नवंबर में प्रयागराज में हुए इंदिरा मैराथन में 42 किमी. की दौड़ पूरी की थी और शानदार प्रदर्शन किया था। बावजूद उसके साथ अन्याय हुआ और उसे सम्मान नहीं मिल सका। इसलिए अब वह सीधे सूबे के मुखिय याेगी आदित्यनाथ से मिलने जा रही है।

इसलिए दौड़ने की नहीं मिली थी अनुमति

बीते वर्ष 19 नवंबर को प्रयागराज में इंदिरा मैराथन दौड़ का आयाेजन हुआ था। 10 साल की काजल भी मैराथन में दौड़ लगाना चाहती थी लेकिन कम उम्र की वजह से उसे आधिकारिक अनुमति नहीं मिली। बावजूद इसके काजल ने सबका दिल जीत लिया था उसने मदन मोहन मालवीय स्टेडियम में स्टेडियम से 42 किमी. की पूरी दौड़ लगाई। परिजनों के बार-बार अनुरोध करने के बावजूद उसे सर्टिफिकेट नहीं दिया गया। मौजूद खेल राज्यमंत्री उपेंद्र तिवारी से भी मिलना चाहती थी लेकिन उसे मंच पर जाने से रोक दिया गया। मंच से काजल का नाम तक नहीं बोला गया। काजल अब मुख्यमंत्री से मिलकर यह सब बाते रखेगी। वह प्रयागराज से नई दिल्ली स्थित इंडिया गेट तक का दौड़ लगा चुकी है। यह सफर उसने 16 दिन में पूरा किया था। काजल के पिता नीरज कुमार बिंद व उसके चाचा कोच रजनीकांत की देखरेख में अब वह लखनऊ की ओर रवाना हुई है।

खबरें और भी हैं...