• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Prayagraj
  • SI Wife Said, Husband Doing Second Marriage, In Prayagraj, A Member Of The Women's Commission Stopped The Marriage, The Panchayat Lasted For Three Hours In The Circuit House

मैडम! पति शादी करने जा रहा है, उसे रोकिए:प्रयागराज में महिला आयोग की सुनवाई में पहुंची SI पत्नी, अध्यक्ष ने ससुराल वालों को बुलवाया

प्रयागराज10 महीने पहले

प्रयागराज के सर्किट हाउस में बुधवार को महिला आयोग की सदस्य अनीता सचान महिलाओं की समस्याएं सुन रही थीं। इसी बीच लखनऊ की रहने वाली एक SI (सब-इंस्पेक्टर) अपने परिवार के साथ रोते हुए वहां पहुंचती। मंच पर मौजूद अफसरों के सामने फूट-फूट कर रोने लगी। बोली- 'मैम मेरे पति आज दूसरी शादी करने जा रहे हैं। प्लीज, शादी रुकवा दीजिए। नहीं तो मैं बर्बाद हो जाऊंगी। हॉल में सन्नाटा पसर गया'।

मामले को गंभीरता से लेते हुए अनीता सचान ने जार्ज टाउन पुलिस को निर्देश दिया कि तत्काल लड़की के ससुराल वालों को यहां लेकर आएं। करीब 3 घंटे तक चली पंचायत के बाद निर्णय लिया गया कि शादी तब तक नहीं होगी, जब तक दोनों पक्ष में समझौता नहीं हो जाता। महिला आयोग की सदस्य के अलावा सीओ आस्था जायसवाल, जिला प्रोबेशन अधिकारी पंकज मिश्रा भी मौजूद रहे।

SRN अस्पताल के पूर्व प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक हैं लड़के के पिता

लड़के के पिता SRN (स्वरूपरानी नेहरू अस्पताल) के रिटायर्ड प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक डॉ. करुणाकर द्विवेदी हैं। वह प्रयागराज के अल्लापुर के रहने वाले हैं। पीड़िता ने बताया कि 2019 के कुंभ में शादी हुई थी- 'शादी के बाद से ही ससुराल वाले प्रताड़ित करते रहे। मैं प्रेग्नेंट थी, लेकिन ससुराल वालों ने मिसकैरेज करा दिया। मुझे इंदिरा नगर के मेरे घर पहुंचा दिया गया। मैं बहराइच में SI के पद पर तैनात रही। पति और ससुराल वालों ने नौकरी छोड़ने को बाध्य किया'।

परीक्षा देने आई थी प्रयागराज, तब हुआ खुलासा

पीड़िता रविवार को समीक्षा अधीकारी की परीक्षा देने प्रयागराज आई थी। वह अपनी एक सहेली के घर पर रुकी थी। वहीं से उसे पता चला कि उसका पति श्वेतांशु बुधवार को दूसरी शादी कर रहा है। मंगलवार की रात ही वह फौरन अपनी सहेली के साथ अपने पति के घर पर पहुंची और पुलिस को सूचना दी।

पीड़िता ने दैनिक भास्कर को बताया, 'पुलिस ने मेरे पक्ष में कोई सुनवाई नहीं की। रात भर थाने में मुझे और मेरी सहेली को बैठाया रखा। उसके परिवार के लोग भी रात में लखनऊ से प्रयागराज पहुंच गए'।

एमबीए और इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर चुकी है पीड़िता

पीड़िता ने बताया कि वह एमबीए और इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर चुकी है। वह सब-इंस्पेक्टर के पद पर तैनात रही। पति बार-बार यह कहता है कि वह या तो IAS अफसर बने या यहां से चली जाए। उसने कहा कि वह इसके लिए हाईकोर्ट में भी अपील करेगी।

एसएसपी को निर्देश, पति न कर पाए दूसरी शादी

महिला आयोग की सदस्य ने तत्काल जार्ज टाउन पुलिस को निदेर्शित किया कि वह पीड़िता के ससुराल वालों को अभी सर्किट हाउस ले कर आएं। करीब आधे घंटे के बाद पुलिस पति के पिता डॉ. करुणाकर द्विवेदी समेत अन्य परिवार के सदस्यों को लेकर वहां पहुंची। वहां डॉ. द्विवेदी ने वहां बताया कि तलाक हो चुका है और दूसरी शादी भी बेटे की हो चुकी है, आज घर पर सिर्फ छोटा सा फंक्शन है। सदस्य अनीता सचान ने एसएसपी को पत्र भेजकर निर्देशित किया कि किसी भी हाल में यह शादी नहीं होनी चाहिए।

खबरें और भी हैं...