• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Prayagraj
  • TGT 2021 New Cut Off: In The Subject Of Physical Education And Commerce, The Name Of Many Students Was Not In The Selection List Even After Getting More Than The Cutoff, The Result Had To Be Changed After The Objection

TGT के 2 विषयों का कटऑफ बदला:शारीरिक शिक्षा और वाणिज्य विषय में बदलाव, प्रतियोगियों की आपत्ति पर चयन बोर्ड ने कहा- टाइपिंग एरर था

प्रयागराज3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड ने TGT का नया कटऑफ जारी कर दिया है। - Dainik Bhaskar
माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड ने TGT का नया कटऑफ जारी कर दिया है।

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड की कार्यशैली सवालों के घेरे में आ गई है। चयन बोर्ड को ट्रेंड ग्रेजुएट टीचर (TGT) का अंतिम परिणाम जारी करने के दो दिन बाद कटऑफ बदलना पड़ा। शारीरिक शिक्षा व वाणिज्य विषय में कई छात्रों का नाम कटऑफ से अधिक नंबर पाने के बाद भी चयन सूची में नहीं था। छात्रों ने चयन बोर्ड पर पहुंचकर लिखित आपत्ति जताई और कोर्ट जाने की धमकी दी। इसके बाद चयन बोर्ड ने रातों रात कटऑफ बदला।

पहले समान्य वर्ग का कटऑफ 433 था, बाद में 446.2 हो गया
शारीरिक शिक्षा विषय में चयन बोर्ड ने जो पहले कटऑफ जारी किया था, उसके मुताबिक सामान्य वर्ग का कटऑफ 433, ओबीसी 421.4 और एससी का कटऑफ 388.4 था। आपत्ति के बाद जब कटऑफ बदला गया तो सामान्य का कटऑफ 446.2, ओबीसी का 433.8 और एससी का कटऑफ 413.2 कर दिया गया। इसी तरह वाणिज्य विषय में बालक वर्ग में सामान्य वर्ग का कटऑफ 404 था, ओबीसी 392 और एससी का 324 था। बाद में संशोधित कटऑफ में सामान्य का कटऑफ 442, ओबीसी का 404 और एससी का कटऑफ 376 कर दिया गया।

26 अक्टूबर की देर रात जारी हुआ था परिणाम
सोरांव के रहने वाले प्रतियोगी लवकुश सरोज ने बताया कि उन्होंने शारीरिक शिक्षा विषय में परीक्षा दी थी। जब परिणाम उन्होंने देखा तो उनका नाम चयन सूची से बाहर था। कटाक्ष किया तो पता चला कि उनका अंक कटऑफ से कहीं ज्यादा है। अगले दिन चयन बोर्ड पर कई छात्रों ने ऐसी शिकायत की। इसके बाद बदलाव हुआ। बता दें कि 26 अक्टूबर की देर रात TGT के 16 विषयों का परिणाम जारी हुआ था।

चयन बोर्ड के सचिव ने कहा- टाइपिंग एरर था
माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड के उप सचिव और परीक्षा नियंत्रक नवल किशोर ने बताया कि सिर्फ कटऑफ में टाइपिंग एरर हो गया था। लिस्ट से कोई बाहर नहीं हुआ है। पुरुष और महिला वर्ग में सिर्फ कन्फ्यूजन के कारण टाइपिस्ट ने गलत टाइप कर दिया था। उसे सुधार लिया गया है।

खबरें और भी हैं...