• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Prayagraj
  • The Lover Had Committed Murder By Calling Him To Meet, The Case Of Handia Police Station Area Of Prayagraj, The Body Of The Teenager Was Found In The Garden Two Days Ago, The Police Disclosed

मिलने के लिए बुलाकर प्रेमी ने कर दी थी हत्या:प्रयागराज के हंडिया थाना क्षेत्र का मामला, दो दिन पहले बाग में मिला था किशोरी का शव, पुलिस ने किया खुलासा

प्रयागराज5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस लाइंस के सभागार में हत्यारोपित प्रेमी व उसके जीजा को मीडिया के सामने पेश किया गया। - Dainik Bhaskar
पुलिस लाइंस के सभागार में हत्यारोपित प्रेमी व उसके जीजा को मीडिया के सामने पेश किया गया।

25 दिसंबर को प्रयागराज के हंडिया थाना क्षेत्र में एक किशोरी का शव मिला बाग में मिला था। दो दिन बाद ही पुलिस ने हत्याकांड का खुलासा करते हुए हत्या करने वाले आरोपित समेत दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया। एसपी गंगापार ने सोमवार को दोनों को मीडिया के सामने पेश किया। हत्यारोपित मृतक किशोरी का प्रेमी है। उसने बताया कि वह किसी और से बात करती थी इसलिए उसे मिलने के लिए बुलाकर उसकी हत्या कर दी। पुलिस ने दोनों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज करते हुए जेल भेज दिया। गिरफ्तार करने वाली टीम में हंडिया थाना के प्रभारी निरीक्षक ज्ञानेश्वर मिश्र, अमरनाथ राय, एसओजी मनोज सिंह, नवीन राय, कांस्टेबल अभिजीत शुक्ला, पुष्पेंद्र कुमार, देवेंद्र यादव, रविदेव यादव व विनोद दुबे शामिल रहे।

धारदार हथियार से काट दिया था गला

एसपी गंगापार ने बताया कि हंडिया के पहाड़पुर गांव का मामला है। राणा प्रताप यादव की 17 वर्षीय बेटी नम्रता का शव गांव के ही बाग में पाया गया था। इसके बाद पुलिस मामले की छानबीन में लगी थी। गांव व अन्य लोगों से पूछताछ में पता चला कि किशोरी का करीब तीन साल से शिवकुमार पाल नामक लड़के से प्रेम संबंध था। शिवकुमार किशोरी के बुआ के ससुराल रहिमापुर झूंसी का रहने वाला है। पूछताछ के दौरान आरोपित शिवकुमार ने बताया कि नम्रता अपने बुआ के अक्सर आती थी, वहीं उससे मुलाकात हुई थी।

आरोपित प्रेमी बोला, दूसरे से बात करती थी नम्रता

पुलिस लाइंस स्थित सभागार में आरोपित प्रेमी शिवकुमार ने मीडिया को बताया कि वह तीन से नम्रता को जानता था। छह सात माह पहले मैंने उसे मोबाइल भी दिया था, उससे बातचीत होती थी। वह किसी और से भी बात करती थी। 24 दिसंबर की रात को मैं अपने जीजा दीपचंद्र पाल निवासी बरौना उतरांव को लेकर उसे मिलने के लिए उसके गांव गया था। वह मिलने के लिए देर रात घर से बाग में आई थी। बातचीत के दौरान ही हमने चाकू निकालकर उसका गला काट दिया। प्रेमिका चीखने लगी थी लेकिन तुरंत ही वह शांत हो गई और उसकी मौत हो चुकी थी।

खबरें और भी हैं...