• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Prayagraj
  • Traders Said, The Government Is The One In Which Traders Have A Stake, Traders Warned Political Parties By Meeting In Prayagraj, Now They Will Not Tolerate Atrocities

सरकार वही जिसमें व्यापारियों की हो हिस्सेदारी:प्रयागराज में व्यापारियों ने बैठक कर राजनीतिक पार्टियों को चेताया, बोले-अब नहीं सहेंगे अत्याचार

प्रयागराज4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रयागराज में शुक्रवार को अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल, प्रयाग केमिस्ट एसोसिएशन व अखिल भारतीय अग्रवाल सम्मेलन की सामूहिक बैठक कैंप कार्यालय पर हुई। - Dainik Bhaskar
प्रयागराज में शुक्रवार को अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल, प्रयाग केमिस्ट एसोसिएशन व अखिल भारतीय अग्रवाल सम्मेलन की सामूहिक बैठक कैंप कार्यालय पर हुई।

प्रयागराज में शुक्रवार को अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल, प्रयाग केमिस्ट एसोसिएशन व अखिल भारतीय अग्रवाल सम्मेलन की सामूहिक बैठक कैंप कार्यालय पर हुई। इसमें व्यापारियों ने राजनीतिक पार्टियों को आगाह किया कि अब व्यापारियों को वही सरकार चाहिए जो व्यापारियों के साथ खड़ी रहे और उनकी समस्याओं का समाधान भी किया। व्यापारियों ने कहा अब सरकार वही हाेगी जिसमें व्यापारियों की भी हिस्सेदारी यानी सहभागिता हो।

सबसे ज्यादा चंदा व्यापारी देता है तो अछूता क्यों?

अध्यक्ष लालू मित्तल ने वर्तमान राजनीतिक परिवेश में और चुनावी माहौल में, सभी राजनीतिक पार्टियों को व्यापारियों और वैश्य समाज के लिए हिस्सेदारी और दावेदारी प्रस्तुत की। उन्होंने कहा कि जब व्यापारी देश के आर्थिक व्यवस्था की धुरी है, टैक्स देने वाला सबसे अधिक व्यापारी है, सामाजिक सेवा करने वाला व्यापारी और राजनीतिक पार्टियों को सबसे ज्यादा सहयोग, व्यवस्था, चंदा देने वाला भी व्यापारी है.. तो फिर व्यापारियों को की भूमिका को नकारा, अनदेखा करना पूर्व की तरह इस चुनाव में किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

उन्होंने कहा कि चुनाव खत्म हो जाने के बाद उन्हीं व्यापारियों का शोषण अत्याचार जब होता है तो अपनी पार्टी में व्यापारियों के लिए कभी भी सरकार में आवाज नहीं उठाते हैं। लालू मित्तल ने उदाहरण देते हुए कहा जिस प्रकार शिक्षक अपने बीच में से स्नातक विधायक चुनकर उच्च सदन में भेजता है उसी प्रकार व्यापारियों को भी उच्च सदन में भेजा जाए ताकि व्यापारी अपनी व्यथां, पीड़ा व समस्या को एक सही प्लेटफार्म पर रख सके और हमारी व्यापारी समस्याओं का समाधान हो सके।

टिकट नहीं मिला तो व्यापारी खुद के चुनाव चिह्न से लड़ेगा चुनाव

महामंत्री रवि शर्मा ने कहा कि सभी क्षेत्र में अन्य लोगों की भागीदारी होती है परंतु व्यापारी की किसी भी स्तर पर सम्मान सुरक्षा नहीं मिलता यहां तक की सिनेमा जगत से जुड़े लोगों को और अन्य क्षेत्रों से जुड़े लोगों को सम्मान दिया जाता है और व्यापारियों को कोई तवज्जो नहीं दी जाती है। उपाध्यक्ष विशाल अरोड़ा ने सभी व्यापारियों से चुनावी माहौल में इकट्ठा होकर एकजुट होकर अपनी बातों को रखने पर बल दिया। यह अपील की कि जो भी राजनीतिक पार्टी यदि व्यापारियों को टिकट नहीं देगी तो व्यापारी स्वयं अपने चुनाव चिह्न पर चुनाव लड़ेगा।

अंत में बैठक में यह तय किया गया ही यदि राजनीतिक दल जो हमेशा से व्यापारियों की अनदेखी और व्यापारियों का इस्तेमाल करते आए हैं, इस बार 2022 में व्यापारी को अगर इन लोगों ने अपनी-अपनी पार्टियों में सीटें आरक्षित नहीं की तो व्यापारी स्वयं चुनाव लड़ेगा l अमित सिंह बबलू गोपाल मित्तल, राजमणि सौरभ, गौतम गुप्ता, राजेश जंग वन अरशद, राम जी जैन, संजय अग्रवाल आदि अनेक व्यापारी उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...