पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

देशी बम के ट्रायल में छात्र की हत्या:प्रयागराज में देशी बम बनाकर बदमाश दीवार पर मारकर कर रहे थे टेस्टिंग, वहां से गुजर रहे बच्चे के गले में धंसा छर्रा, तड़प-तड़पकर मौत

प्रयागराज2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस ने दोनों आरोपियों में से एक को पकड़ लिया है। दूसरे की तलाश जारी है। - Dainik Bhaskar
पुलिस ने दोनों आरोपियों में से एक को पकड़ लिया है। दूसरे की तलाश जारी है।

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज से एक हैरान करने वाली खबर सामने आई है। यहां सराय इनायत थाना क्षेत्र के लोहढ़ा गांव में देशी बम बनाकर उसकी टेस्टिंग कर रहे दो बदमाशों की गलती ने 14 साल के बच्चे की जान ले ली।दरअसल, देशी बम की मारक क्षमता टेस्ट करने के लिए बदमाशों ने जैसे ही उसे दीवार पर मारा, वहां से गुजर रहा 14 वर्ष का शुभम चपेट में आ गया। छर्रा उसके गले में धंस गया और वहीं गिरकर तड़पने लगा। उसके गले से खून बहने लगा। यह देख दोनों बदमाश मौके से भाग खड़े हुए। जब तक परिजन उसे लेकर अस्पताल पहुंचे, उसकी मौत हो चुकी थी। पुलिस ने एक आरोपी को पकड़ लिया है।

ननिहाल में रहकर पढ़ाई करता था शुभम

मृतक शुभम की फाइल फोटो।
मृतक शुभम की फाइल फोटो।

फूलपुर थाना क्षेत्र के बाबूगंज गिरधरपुर गांव के रहने वाले विनोद कुमार भारतीय का 14 साल का बेटा शुभम कुमार अपने मामा अरविंद के घर रहकर पढ़ाई करता था। पिछले दो साल से वह लोहढ़ा गांव में ही रहता था और हनुमानगंज स्थित हनुमंत इंटर कॉलेज में कक्षा आठ का छात्र था। वह पढ़ने में काफी अच्छा था। हंसमुख और मिलनसार भी था। उसकी मौत ने गांव में सभी को गमगीन कर दिया है।

नहाने के बाद ठंडा तेल लेने दुकान जा रहा था
रविवार शाम आठ बजे के करीब शुभम ठंडा तेल लेने दुकान के लिए निकला था। रास्ते में गांव के दो युवक देशी बम बांधकर उसका ट्रायल कर रहे थे। जैसे ही बदमाशों ने बम दीवार पर फेंका, वहां से गुजर रहे शुभम के गले में बम का छर्रा जाकर धंस गया। वह वहीं लहुलुहान होकर गिर पड़ा। शुभम के घायल होने के बाद दोनों युवक वहां से फरार हो गए। गांव के लोगों ने शुभम के मामा के घर सूचना दी। उसे लेकर अस्पताल भागे पर अधिक खून बहने के कारण उसकी मौत हो गई।

मौत की सूचना घर वालों को मिली तो कोहराम मच गया। बम धमाके में लड़के की मौत की खबर पाकर पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने एक युवक को गिरफ्तार कर लिया है। फरार दूसरे आरोपित की तलाश जारी है। पुलिस ने दोनों के खिलाफ रिपोर्ट भी लिख ली है।

छात्र की मौत के बाद रोते बिलखते परिजन। पूरे गांव में मातम पसर गया है।
छात्र की मौत के बाद रोते बिलखते परिजन। पूरे गांव में मातम पसर गया है।

पटाखे से बनाया था बम
सराय इनायत थाने के इंस्पेक्टर राकेश चौरसिया ने बताया कि गांव के दो युवक आतिशबाजी पटाखे से देसी बम बांधकर दीवार पर फोड़ रहे थे, तभी यह घटना हो गई है। दोनों युवकों के खिलाफ केस लिखा गया है। शुभम के माता-पिता एवं परिवार के लोग पहुंच गए। दूसरे आरोपी की तलाश की जा रही है।

खबरें और भी हैं...