EXCLUSIVE...मथुरा में फोटो खींचकर लीक किया पेपर:शामली के गिरोह ने 5 लाख में खरीदा, 60 लोगों को बेचा, फिर आगरा-प्रयागराज में भी बिका

मेरठ/प्रयागराज6 महीने पहलेलेखक: मनु चौधरी/अंजनी श्रीवास्तव
  • कॉपी लिंक

UP TET पेपर लीक कांड में दैनिक भास्कर की इन्वेस्टिगेशन में खुलासा हुआ है कि सबसे पहले पर्चा मथुरा से लीक हुआ। परीक्षा से एक दिन पहले शाम 6.30 बजे मथुरा से पर्चे की फोटो शामली के गिरोह के हाथ लगी। 5 लाख रुपए में ये पर्चा लिया गया। इस गिरोह ने 60 छात्रों को 50-50 हजार रुपए एडवांस लेकर पर्चा दिया। इसके बाद रात 10 बजे तक आगरा-प्रयागराज में भी पर्चे की बिक्री शुरू हो गई। गोरखपुर में भी 3 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

5 लाख में खरीदा, फिर दो-दो लाख में बेचा

अब तक की जांच में सामने आया है कि शामली के गिरोह ने 5 लाख में पर्चा लेकर इसे 2-2 लाख रुपए में बेचा। इसके लिए 50 हजार रुपए एडवांस में लिए गए, बाकी पैसे पेपर के बाद देने का सौदा हुआ था। प्रयागराज, मेरठ, शामली सहित कई शहरों में बड़े पैमाने पर ये पेपर बेचे गए थे। STF ने प्रयागराज में 20 छात्रों को भी हिरासत में लिया है, जिन्होंने पेपर खरीदे थे।

शामली के 3 जालसाजों ने 60 लोगों को बेचा था पर्चा

मनीष उर्फ मोनू, रवि, धर्मेंद्र को STF ने पकड़ा है। इनसे पूछताछ की जा रही है।
मनीष उर्फ मोनू, रवि, धर्मेंद्र को STF ने पकड़ा है। इनसे पूछताछ की जा रही है।

शामली से जिन तीन आरोपियों को हिरासत में लिया गया है, जानकारी के मुताबिक इनके संपर्क में 60 लोग थे। इन्हें 50 -50 हजार रुपए में पर्चा देने की बात सामने आई है। इनके मोबाइल में मिले नंबरों के आधार पर एसटीएफ बाकी लोगों से पूछताछ कर रही है।

कैसे लीक हुआ पर्चा, जांच जारी

प्रश्नपत्र कोषागार के डबल लॉक में रखने के बावजूद कैसे लीक हुआ? इस बात की STF जांच कर रही है। कोषागार के सुरक्षाकर्मी और कर्मचारियों से भी पूछताछ चल रही है।

प्रयागराज में 16 गिरफ्तार
यूपी टेट परीक्षा प्रश्नपत्र लीक मामले में प्रयागराज से STF ने 23 संदिग्धों को दबोचा है। सभी से पूछताछ की जा रही है। इस बात की जानकारी ली जा रही है कि आखिर इन लोगों के पास प्रश्नपत्र किस प्रकार पहुंचा।