लालगंज में पावरहाउस पर ग्रामीण ने जड़ा ताला:दो घंटे आपूर्ति ठप, पीड़ित की जमीन पर बना सबस्टेशन, हाईकोर्ट के आदेश के बाद भी नहीं मिला मुआवजा

लालगंज, रायबरेली14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

लालगंज तहसील क्षेत्र के सरेनी के अंतर्गत मलके गांव में जमीन का मुआवजा न मिलने से नाराज ग्रामीण ने विद्युत उप केंद्र में ताला जड़ दिया। जिससे करीब 2 घंटे तक बिजली आपूर्ति ठप रही। पुलिस व उपखंड अधिकारी ने ताला तुड़वाया, तब जाकर कहीं विद्युत आपूर्ति शुरू हो सकी।

जमीन का मुआवजा न मिलने पर विनोद द्विवेदी ने सब स्टेशन पर जड़ा ताला।
जमीन का मुआवजा न मिलने पर विनोद द्विवेदी ने सब स्टेशन पर जड़ा ताला।

थाना क्षेत्र के मलके गांव के रहने वाले विनोद द्विवेदी पुत्र हृदयानंद द्विवेदी ने शानिवार को 10 :30 बजे मलके गांव के विद्युत उपकेंद्र पहुंचे। नियंत्रण कक्ष से कर्मचारियों को बाहर निकाल कर दरवाजे पर ताला जड़ दिया। अधिकारियों को जैसे ही इसकी सूचना मिली, उनके हाथ--पांव फूल गए। विद्युत उपकेंद्र के कर्मचारी ने उपखंड अधिकारी रमेश सिंह कुशवाहा ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस एसडीओ के साथ मौके पर पहुंची। कक्ष का ताला तुड़वाया गया, तब कहीं जाकर कहीं विद्युत आपूर्ति 12 बजकर 40 बजे बहाल हो सकी। करीब दो घंटे तक बिजली गुल रही।

ग्रामीण की जमीन पर बना सब स्टेशन

ग्रामीण विनोद सिंह का कहना है कि विद्युत उपकेंद्र उनकी जमीन पर बना है। सन 2001 में हाईकोर्ट से आदेश हुआ था कि मुझे एक करोड़ से अधिक मुआवजा दिया जाए। बावजूद इसके अभी तक मुआवजा नहीं मिला। कई बार अधिकारियों से गुहार लगाई, लेकिन कोई सुनने को तैयार नहीं है। इसलिए गुस्से उपकेंद्र पर ताला जड़ दिया। वहीं उपखंड अधिकारी रमेश सिंह कुशवाहा कहते हैं कि ताला बंद होने से 2 घंटे विद्युत आपूर्ति ठप रही है। पुलिस ने ताला तोड़ा। मुआवजे का मामला मेरे स्तर का नहीं है।

खबरें और भी हैं...