ऊंचाहार में विवाहिता की मौत की मामला:फांसी नहीं बल्कि दुपट्टे से गला घोंटकर हुई हत्या, आरोपियों की तलाश में जुटी पुलिस

ऊँचाहार5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

रायबरेली के ऊंचाहार कोतवाली क्षेत्र के कस्बा में संदिग्ध परिस्थितियों में एक विवाहिता की मौत हो गई। सूचना पर पहुंचे परिजनों ने ससुराली जनों पर दहेज हत्या का आरोप लगाते हुए कोतवाली में नामजद तहरीर देकर दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस शव का पोस्टमार्टम कराकर आरोपियों की तलाश में जुटी है।

कानपुर शहर के चंदौली थाना अंतर्गत रेल बाजार निवासी अल्ताफ ने कोतवाली में दिए गए प्रार्थना पत्र में बताया है कि करीब एक वर्ष पूर्व उसकी बहन नगमा की शादी कस्बा निवासी मोहम्मद साबिर के साथ हुई थी। शादी के बाद से ही ससुराली जनों द्वारा दहेज को लेकर उसे प्रताड़ित किया जाता था।

दहेज में बुलेट मोटरसाइकिल व पांच लाख रुपए की निरंतर मांग करते रहे। ख्वाहिशें ना पूरी होने पर मंगलवार की देर शाम नगमा के साथ मारपीट कर दुपट्टे से गला घोंट कर नगमा की हत्या कर दी गई। और उन्हें घटना की सूचना भी नहीं दी गई।

कस्बे में ही ब्याही उनकी बहन के द्वारा घटना की सूचना मिली तो वह बुधवार की सुबह पुलिस बल के साथ मृतक बहन के ससुराल पहुंचा। जहां मृत अवस्था में बहन को चारपाई पर लेटा देख उसके होश उड़ गए। जिसके गले में फांसी लगने के निशान थे। इसके बाद भाई अल्ताफ ने कोतवाली पहुंचकर पति मोहम्मद शाबिर, सास बेबी, ससुर वाहिद, ननंद शीबा, जेठ राशिद, जेठानी रेशमा, देवर ताबीस, आमिर के खिलाफ दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है।

कोतवाल शिव शंकर सिंह ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में फांसी से लटकने की पुष्टि नहीं हुई है। दुपट्टे से उसका गला कसने से मौत होने की पुष्टि हुई है। मृतका के शरीर पर मारपीट के निशान भी पाए गए हैं। मामले की विवेचना क्षेत्राधिकारी अशोक कुमार सिंह करेंगे। जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा।

खबरें और भी हैं...