भैंस ढूंढने में माहिर पुलिस अब ढूंढेगी घोड़ी:रामपुर में कांग्रेस नेता की घोड़ी हुई गायब, थाने में दर्ज कराई गुमशुदगी; ADG ने लिया संज्ञान

रामपुर23 दिन पहले
भैंस ढूंढने में माहिर पुलिस अब ढूंढेगी घोड़ी।

रामपुर पुलिस अपराधियों को पकड़ने से ज्यादा जानवरों को ढूंढने में समय खर्च करती है। मुर्गी, बकरी, कुत्ता, भैंस के बाद अब पुलिस घोड़ी ढूंढेगी। किसान कांग्रेस के जिलाध्यक्ष हाजी नाजिश खान ने कोतवाली पुलिस को तहरीर देकर गुहार लगाई है कि उनकी रानी नाम की घोड़ी शुक्रवार सुबह गायब हो गई, जो नहीं मिल रही है। पुलिस जल्द से जल्द उसे ढूंढे।

82 हजार रुपए में घोड़ी खरीदी थी घोड़ी

हाजी नाजिश खान ने बताया कि उनकी रानी नाम की एक पालतू घोड़ी है। उसकी उम्र 4 वर्ष है, रंग काला है और मुंह सफेद है। उसको तोपखाना गेट हजरतपुर चौराहा जावेद लाला की चक्की के पीछे बांधा जाता था। शुक्रवार सुबह घोड़ी को वहां से कोई खोल ले गया। नाजिश खान ने बताया कि उन्होंने डेढ़ साल पहले 82 हजार रुपए में घोड़ी खरीदी थी। यह उनके परिवार का अहम हिस्सा है। उनके बच्चों की भावनाएं उसके साथ जुड़ी हुई हैं।

मंत्री की भैंस और डीएम के कुत्ते को ढूंढने में माहिर है पुलिस

रामपुर पुलिस जानवरों को ढूंढने में माहिर है। तत्कालीन सपा सरकार में मंत्री आजम खां की भैंस ढूंढने के लिए खुद पुलिस अधीक्षक साधना गोस्वामी मैदान में उतर पड़ी थीं और उन्हें ढूंढ भी निकाला था। तत्कालीन जिलाधिकारी अमित किशोर के पालतू कुत्ते जर्मन शेफर्ड जोजो को भी 24 घंटे के अंदर ढूंढ निकाला था। पुलिस मुर्गी, बकरी आदि जानवरों को भी ढूंढने में पीछे नहीं रही है। अब इसी जिम्मेदार पुलिस पर कांग्रेसी नेता की घोड़ी ढूंढ कर लाने का जिम्मा भी आ पड़ा है।

ADG बरेली जोन ने मामले का लिया संज्ञान।
ADG बरेली जोन ने मामले का लिया संज्ञान।

मामले का ADG ने लिया संज्ञान

किसान कांग्रेस नेता हाजी नाजिश खान की घोड़ी गायब होने पर ADG बरेली जोन ने संज्ञान लिया है। उन्होंने डीआईजी मुरादाबाद और रामपुर पुलिस को मामले को देखने के लिए कहा है।

खबरें और भी हैं...