रामपुर में छेड़खानी की पीड़िता को थाने से भगाया:देवर के खिलाफ शिकायत करने पहुंची थी, दारोगा ने डांटकर भगाया, SP से की शिकायत

रामपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रामपुर में छेड़खानी की पीड़िता को थाने से भगाया। - Dainik Bhaskar
रामपुर में छेड़खानी की पीड़िता को थाने से भगाया।

रामपुर जनपद के कोतवाली शहर क्षेत्र में छेड़छाड़ की शिकायत लेकर पहुंची पीड़िता को चौकी से भगाने का मामला सामने आया है। आरोप है कि चौकी कुंडा के दारोगा ने महिला को डांटकर थाने से भगा दिया। पीड़िता ने मायूस होकर एसपी को लिखित तहरीर देते हुए इंसाफ की गुहार लगाई है।

जिले के कोतवाली शहर क्षेत्र में मोहल्ला जीना इनायत खां की रहने वाली एक महिला ने अपने देवर नईम के खिलाफ छेड़छाड़ की शिकायत दर्ज कराने थाने पहुंची थी। महिला ने आरोप लगाया है कि उसका देवर उसे घर में अकेले पाकर उसके साथ अश्लील हरकत करता है। पीड़िता के विरोध करने पर वह उसके साथ मारपीट भी करता है। पीड़िता ने इस घटना की तहरीर चौकी कुंडा प्रभारी आनंद वीर सिंह को दी।

दारोगा ने पति के साथ भी अभद्रता

पीड़िता की गुहार सुनने के बजाए उन्होंने उल्टे पीड़िता को ही डांटना फटकारना शुरू कर दिया। पीड़िता के मुताबिक दारोगा आनंद वीर सिंह ने कहा कि वह सिर्फ मारपीट में मामला दर्ज करेंगे और अगर न्यायालय से मामला दर्ज करवाया तो वह इसमें एफआर लगा देंगे। इस दौरान दारोगा ने पीड़िता और उसके पति के साथ अभद्रता करते हुए दोनों को चौकी से भगा दिया।

पीड़िता की शिकायत नहीं सुने जाने और दारोगा द्वारा तथाकथित अभद्रता से परेशान होकर पीड़िता ने पुलिस अधीक्षक को लिखित तहरीर दी है। इसके साथ ही पूरे मामले में दारोगा द्वारा किए गए तथाकथित अभद्र व्यवहार की शिकायत करते इंसाफ की गुहार लगाई है।

देवर पर लगाया नशा करने का आरोप

पीड़िता ने तहरीर में आरोपी देवर नईम पर यह भी आरोप लगाया है कि वह नशा करता है। पीड़िता के छोटे-छोटे बच्चे हैं। वह उन्हें अक्सर जान से मारने की धमकी देता है। तहरीर में यह भी कहा गया है कि लगभग 1 महीने पूर्व आरोपी नईम सीआरपीएफ परिसर के अंदर पकड़ा गया था, जिसके चलते सीआरपीएफ अधिकारियों ने उसे थाना सिविल लाइंस में बंद कराया था। पीड़िता ने यह भी बताया कि आरोपी के पास दो आधार कार्ड हैं, जिसमें एक आधार कार्ड पर उसका पता मुंबई का है, जबकि दूसरा पता रामपुर का है। पुलिस अधीक्षक को तहरीर देकर पीड़िता ने इंसाफ की गुहार लगाई है।

मकान और दुकान का चल रहा झगड़ा

इस मामले में चौकी कुंडा प्रभारी आनंद वीर सिंह ने बताया कि मामला संदिग्ध है। महिला का अपने देवर के साथ मकान और दुकान का झगड़ा चल रहा है। महिला पहले मारपीट की तहरीर लेकर आई थी। मारपीट के मामले में किसी वकील के कहने पर तहरीर को रेप में बदलवा दिया।