रामपुर में अवैध कब्जा वाली जमीनों पर बनेंगी पंचवटी:71 गांवों में कब्जा मुक्त करावाई जाएंगी जमीने, औषधीय गुणों वाले पौधों से तैयार होंगी पंचवटी

रामपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

रामपुर में 71 ग्राम पंचायतों में नीम और पीपल सहित अन्य औषधीय गुणों से भरपूर पौधों का बल्क प्लांटेशन के साथ पंचवटी तैयार कराई जाएगी। पंचवटी उन जमीनों पर बनाई जाएगी। जिन पर अभी तक अवैध कब्जा था। प्रशासन ने इस अवैध कब्जे को हटवा कर पंचवटी बनाने की तैयारियां जोर-शोर से शुरू कर दिए।

अधिकारी तैयार करें पौधारोपण की कार्ययोजना

विभिन्न ग्राम पंचायतों में ऐसी जमीनें चिन्हित की गई हैं जिन पर लंबे समय से अवैध कब्जा था। इन सभी जमीनों पर इसे पौधे लगाए जायेंगे जिनसे दवाइयां मिल सकें। जिले की सभी तहसीलों के उपजिलाधिकारियों द्वारा इन सार्वजनिक जमीनों को कब्जा मुक्त करा कर उनकी हदबंदी करा दी गई है। अब इन सभी जमीनों पर बड़ी तादाद में औषधीय महत्व से भरपूर पौधे लगाने का फैसला किया गया है। पर्यावरण संतुलन के मद्देनजर बड़े पैमाने पर पौधरोपण की कार्ययोजना भी तैयार कर ली गई है।

11 लाख पौधरोपण का दिया गया टारगेट

साथ ही सभी विभागों को लक्ष्य भी दिए गए हैं ताकि तय वक्त के अंदर गड्ढा खुदान के साथ पौधरोपण कराया जा सके।मनरेगा विभाग को करीब 6 सौ ग्राम पंचायतों में लगभग 11 लाख पौधरोपण का टारगेट दिया गया है, इसके बारे में डिप्टी कमिश्नर मनरेगा ने बताया कि निर्धारित लक्ष्य की पूर्ति के लिए गड्ढा खुदान का कार्य शुरू करा दिया गया है। औष्घीय महत्व के पौधे लगाये जाने से पर्यावरण को जहां फायदा मिलेगा वहीं दवाईयां में इनके प्रयोग से राजस्व भी अर्जित करने में मदद मिलेगी। वहीं वर्षों से किये गये अवैध कब्जे से छुटकारा मिल सकेगा।

खबरें और भी हैं...