स्वार में तेंदुए से दहशत:रामपुर के मसवासी गांव में दूसरी बार दिखाई पड़ा तेंदुआ, वन विभाग ने कहा - जल्द पाएंगे सफलता, कांबिंग लगातार जारी

स्वार, रामपुर5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
स्वार में तेंदुए से निकलने के बाद खाली पड़ा पिंजरा। - Dainik Bhaskar
स्वार में तेंदुए से निकलने के बाद खाली पड़ा पिंजरा।

क्षेत्र में तेंदुआ जगह-जगह दिखाई दे रहा है। बीते दो दिन पूर्व भी एक ग्रामीण मसवासी से बेलवाड़ा अपने गांव जा रहा था। जैसे ही वह गांव के नजदीक पहुंचा तब उसने मुख्य मार्ग पर टहलते हुए तेंदुए को देखा। वह बुरी तरह घबरा गया और उसने चीखना-चिल्लाना शुरू कर दिया। शोर-शराबे की आवाज सुनकर काफी ग्रामीण मौके पर एकत्र हो गए। जानकारी पर बेलवाड़ा निवासी एडवोकेट दलजीत सिंह राणा ने बताया कि बीते दो दिन पूर्व में अपने परिजनों के साथ घर में बैठा था तभी अचानक शोर-शराबे की आवाज सुनाई दी। मैंनें लाठी-डंडे लेकर ग्रामीणों के साथ मौके की ओर दौड़ लगा दी। मौके पर पहुंच कर देखा तो गांव का ही एक ग्रामीण बेहद घबराया हुआ था। पूछताछ पर उसने बताया कि उसने अभी बेलवाड़ा से मसवासी आने वाले मुख्य मार्ग पर तेंदुए को टहलते हुए देखा है। ग्रामीण ने बताया कि शोर मचाने पर तेंदुए ने खेतों की तरफ दौड़ लगा दी। बीते दिनों इसी तेंदुए के द्वारा एडवोकेट दलजीत सिंह राणा के घर में घुसकर उनके पालतू कुत्ते को निवाला बना लिया था। जिला वन अधिकारी राजीव कुमार ने टीम संग मौके पर पहुंचकर पिंजड़ा भी लगवा दिया लेकिन तेंदुआ उसमें कैद नहीं हो सका है। जिसको लेकर ग्रामीणों में तेंदुए का खौफ बरकरार है। ग्रामीणों ने अपने घर से निकलना बंद कर दिया है। उधर, गुरुवार को क्षेत्र के गांव मानपुर-उत्तरी निवासी मुहम्मद अली के गन्ने की कटाई करने गए मजदूरों ने तेंदुए को टहलते हुए देखा था। वहीं, वन विभाग की टीम भी लगातार तेंदुए को पकड़ने के प्रयास में लगी हुई है। शुक्रवार को भी वन रेंजर मुजाहिद हुसैन, वन दरोगा राजकुमार, वनमाली अजीम खां, संजय सिंह आदि ने टीम के साथ बेलवाड़ा गांव के जंगल में लगाए गए पिंजड़े का निरीक्षण किया है। जानकारी पर वन रेंजर मुजाहिद हुसैन ने बताया कि वन विभाग की टीम के द्वारा लगातार जंगल में कांबिंग की जा रही है। तेंदुए को पकड़ने के प्रयास जारी हैं। उन्होंने कहा है कि आतंक का पर्याय बने तेंदुए को जल्दी ही पकड़ लिया जाएगा। स्वार से रवि सैनी की रिपोर्ट

खबरें और भी हैं...