ग्रामीणों में तेंदुए का खौफ:मसवासी में बस्ती में घूम रहा तेंदुआ, पालतू जानवरों को बना रहा शिकार, लोगों में दहशत

स्वारएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

रामपुर जिले के मसवासी क्षेत्र में तेंदुआ के आने से लोगों में दहशत है। कभी बेलवाड़ा तो कभी मानपुर-उत्तरी गांव के जंगल में कई बार ग्रामीणों द्वारा तेंदुए को देखा। जिसके बाद वन विभाग को सूचना दी गई लेकिन अभी तेंदुए को पकड़ा नहीं जा सका है।

मसवासी क्षेत्र के गांव बेलवाड़ा निवासी एडवोकेट दलजीत सिंह राणा के दूसरे पालतू कुत्ते को भी तेंदुए ने अपना शिकार बना लिया। मामले की सूचना वन विभाग के अधिकारियों को दी गई। सूचना मिलते ही वन विभाग के दरोगा शील कुमार, राजकुमार, संतोष कुमार आदि मौके पर पहुंच गए।

वन विभाग की टीम को बेलवाड़ा गांव स्थित जंगल में गन्ने के खेत से एडवोकेट दलजीत सिंह के दूसरे पालतू कुत्ते के अवशेष बरामद हुए हैं।

वन दरोगा शील कुमार ने बताया कि, तेंदुए को पकड़ने के लिए अब पिंजड़े की जगह को बदल दिया गया है। उन्होंने ग्रामीणों को आश्वासन दिया है कि अब जल्दी ही तेंदुए को पकड़ लिया जायेगा। तेंदुए के बार-बार देखे जाने से ग्रामीणों में दहशत का माहौल बना हुआ है।

तेंदुए ने एडवोकेट दलजीत सिंह राणा के पहले पालतू कुत्ते को बीते छह जनवरी को निवाला बनाया था। जिसके बाद सजग हुई वन विभाग की टीम ने एडवोकेट के घर के पास तेंदुए को पकड़ने के लिए पिंजड़ा लगवा दिया था परंतु उसमें तेंदुआ कैद नहीं हो सका था।

वन विभाग के अधिकारियों का कहना है कि, जल्द ही जंगल में घूम रहे तेंदुए को पकड़ा जाएगा। जिसकी तलाश में वन विभाग की कर्मचारी लगातार जंगल मे काम्बिंग कर रहे है।

खबरें और भी हैं...