देवबंद...दारुल उलूम मे प्रवेश शुरू:विश्व प्रसिद्ध दारुल उलूम ने दो वर्ष के बाद नए छात्रों के लिए खोले प्रवेश द्वार, छात्रों में दौड़ी खुशी की लहर

देवबंद, सहारनपुर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

देवबंद । दुनिया में इस्लामी तालीम के अजीम मरकज दारूल उलूम द्वारा नये शिक्षा सत्र के लिए दो वर्ष बाद छात्रों के प्रवेश के लिए दरवाजे खोल दिए हैं।

कोविड महामारी के चलते दारूल उलूम में विगत दो वर्षों से नये छात्रों के दाखिले बंद थे। इस वर्ष देश में कोरोना पर नियंत्रण के चलते इदारे ने नये छात्रों के दाखिले का फैसला लिया है, जिससे दारूल उलूम में पढाई करने की इच्छा रखने वाले छात्रों में खुशी की लहर दौड़ गई।

इदारे के मोहतमिम मौलाना मुफ्ती अबुल कासीम नौमानी ने सोमवार को जारी बयान में बताया कि इदारे की मजलिस ए तालीमी ने अगले वर्ष रमजान मुबारक के बाद नये दाखिले लेने का निर्णय लिया है। उन्होंने बताया कि पिछले दो वर्षों से सरकार की गाइड लाइन के चलते इदारे में नये छात्रों को प्रवेश नहीं दिया गया था। उन्होंने बताया कि आगामी 9 मई से प्रवेश के लिए परीक्षाएं शूरू होंगी और फारसी, अव्वल अरबी, दोम अरबी, सोम अरबी, चाहरूम अरबी के लिए आगामी चार मई से 7 मई तक प्रवेश के लिए आवेदन जमा किए जाएंगे।

उन्होंने बताया कि पंजुम अरबी से दौरे हदीस तक के छात्रों को आगामी चार मई से 8 मई तक प्रवेश फार्म जमा कराने होंगे। इसके बाद 9 मई से प्रवेश परीक्षा शुरू होगी।

उन्होंने नये छात्रों से आहवान किया कि प्रवेश के लिए नये छात्र रमजान के महीने में देवबंद की यात्रा न करें, बल्कि रमजान में अपने घर पर ही रहकर अपनी प्रवेश परीक्षा की तैयारी करें।

खबरें और भी हैं...