पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आतंकियों का सहारनपुर कनेक्शन:दिल्ली से पकड़े गए आतंकी अबुबकर ने 2013 में देवबंद रहकर पढ़ाई करने की चर्चा, ATS ने दो दिनों तक छानबीन की

सहारनपुर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक फोटो

सहारनपुर के देवबंद का आतंकवाद का कनेक्शन निकलने का पुराना नाता रहा है। देश में कहीं पर भी आतंकी गतिविधयां होती है, तो देवबंद का नाम उछलना लाजिमी है। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल और यूपी ATS ने जिन पांच संदिग्ध आतंकियों को गिरफ्तार किया है। उनमें से यूपी के बहराइच का रहने वाले अबुबकर सहारनपुर के देवबंद में 2013 रहकर शिक्षा ग्रहण की थी। जिसके बाद ATS ने देवबंद में पिछले दो दिनों तक छापेमारी की है। हालांकि अभी तक किसी ने इसकी पुष्टि नहीं की है।
सहारनपुर में आतंकी मसूद अजहर को छुड़ाने को रची थी साजिश
पश्चिमी यूपी के सहारनपुर में पहली बार जैश ए मोहम्मद की सक्रियता का खुलासा हुआ था। जैश ए मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को 1994 में छुड़ाने के लिए सहारनपुर में साजिश रची गई थी और हापुड़ से विदेशी नागरिकों को सहारनपुर के खाताखेड़ी में रखा गया था। विदेशी नागरिकों छुड़ाने में इंस्पेक्टर ध्रुवलाल यादव और एक सिपाही शहीद हो गया था। मुठभेड़ में एक आतंकी भी ढ़ेर हो गया था। इसके बाद मुजफ्फरनगर के गांव जौला से जैश का एरिया कमांडर मोहम्मद वारिस भी गिरफ्तार हुआ था।सहारनपुर में भी छुपे हो सकते हैं स्लीपर सेल
सहारनपुर का देवबंद आतंकी कनेक्शन किसी से छुपा नहीं है। हालांकि किसी भी मामले में पुष्टि नहीं हुई है। संदिग्ध आतंकियों को पकड़कर ले जाने के बाद सबूत न मिलने के बाद छोड़ा भी गया। हमेशा से आतंकी कनेक्शन मिलने के बाद देशभर की जांच एजेंसियां की नजर हमेशा देवबंद पर रहती है। ATS ट्रेनिंग सेंटर बनने के बाद सभी आतंकी गतिविधियों पर नजर रखीं जाएगी।
यह है सहारनपुर के चर्चित आतंकी घटना
1991 में लक्ष्मी सिनेमा में बम फटा था, जिसमें आठ-दस लोग मारे गए थे। उस समय घटना में आतंकियों का हाथ बताया गया था।
1994 में तीन ब्रिटिश नागरिकों को बंधक बनाकर आतंकियों ने सहारनपुर के खाताखेड़ी में रखा था।
2001 में आतंकी गतिविधियों के चलते मुफ्ती इसरार को एक मदरसे से पुलिस ने पकड़ा।
2005 में अयोध्या में हुए बम कांड में तीतरो के डाक्टर इरफान को पकड़ा गया था।
अगस्त 2010 में देवराज सहगल उर्फ शाहिद उर्फ इकबाल भाटी को पटियाला से गिरफ्तार किया। उसने सहारनपुर से लाइसेंस एवं अन्य दस्तावेज बनवाए थे।
सितंबर 2015 की रात दिल्ली पुलिस की स्पेशल टीमों ने सहारनपुर रेलवे स्टेशन के बाहर से हिजबुल इंडियन मुजाहिदीन के आतंकी एजाज शेख को गिरफ्तार किया था।
22 फरवरी 2019 को एटीएस और पुलिस ने देवबंद से जैश ए मोहम्मद के आतंकी शाहनवाज तेली निवासी कुलगाम जम्मू कश्मीर और आकिब अहमद मलिक निवासी पुलवामा जम्मू कश्मीर को गिरफ्तार किया।

एसएसपी डा.एस चनप्पा का कहना है कि त्योहारों को लेकर चौकसी बरती जा रही है। चौक-चौराहों पर पुलिस बल की अतिरिक्त ड्यूटी लगाई गई है।

खबरें और भी हैं...