सहारनपुर...CM और DGP को ट्वीट करने पर भड़के इंस्पेक्टर:पीड़ित महिला के पार्टनर को फोन कर इंस्पेक्टर बोले;अपनी पार्टनर को समझा लो, नहीं तो बीप..बीप कर छोड़ दूंगा, ऑडियो सामने आया

सहारनपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक फोटो

सहारनपुर के थाना कोतवाली बेहट इंस्पेक्टर ने एक पीड़ित महिला के बिजनेस पार्टनर को धमकते हुए एक ऑडियो सामने आया है। ऑडियो में इंस्पेक्टर बिजनेस पार्टनर प्रवेश से महिला का नाम लेकर अभद्र भाषा बोल रहा हैं। पीड़ित ने उच्चाधिकारियों से इंस्पेक्टर की शिकायत कर कार्रवाई की मांग की है। महिला का कहना है कि उसके द्वारा दर्ज मुकदमे में थाना प्रभारी ने कोई कार्रवाई नहीं की तो उसने CM और DGP को ट्वीट कर कार्रवाई की मांग की है।

26 सितंबर को SSP से मिलने पहुंची थी महिला
26 सितंबर को महिला SSP से मिली थी और अपने मुकदमे में जांच किसी दूसरे थाने में कराने की मांग की थी। जब इस पर भी कोई कार्रवाई नहीं हुई तो महिला ने CM और DGP को ट्वीट कर आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की। CM और DGP को ट्वीट की बात कोतवाली प्रभारी किरण पाल सिंह को लग गई। जिसके बाद इंस्पेक्टर ने पीड़ित महिला के पार्टनर को फोन कर महिला के खिलाफ अपशब्द बोले। महिला ने फिर से इंस्पेक्टर के खिलाफ SSP से कार्रवाई की मांग की है।

5 सितंबर को महिला के साथ की थी मारपीट और अभद्रता
सहारनपुर के पैरामाउंट के रहने वाले प्रवेश कुमार ने एक महिला और रिकास व मिंटू नाम के लोगों से स्टोन क्रशर में करीब तीन साल पहले पार्टनरशिप की थी। महिला और प्रवेश कुमार स्टोन क्रशर से अलग हो गए। जबकि रिकास और मिंटू स्टोर क्रशर को चल रहे हैं। महिला का कहना है कि 5 सितंबर को वह अपने पार्टनर प्रवेश के साथ रिकास और मिंटू से स्टोन क्रशर का पुराना हिसाब करने गई थी। महिला का आरोप है कि हिसाब के दौरान रिकास और मिंटू ने छेड़छाड़ कर करते हुए उसके कपड़े फाड़े और मारपीट भी की। पीड़िता ने बेहट कोतवाली में मुकदमा भी दर्ज कराया था। जिस पर आज तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

थाना कोतवाली प्रभारी किरण पाल सिंह का कहना है कि ट्वीट को लेकर मेरे द्वारा महिला के पार्टनर प्रवेश को फोन किया गया था। मैंने किसी को गाली नहीं दी। पीड़िता द्वारा दर्ज कराए गए मुकदमे दबिश दी जा रही है।

एसपी देहात अतुल शर्मा का कहना है कि यदि थाना प्रभारी ने गाली दी है, तो इसकी जांच कराई जाएगी। जांच में दोषी पाए जाने पर इंस्पेक्टर के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...